दिल्ली में बढ़ी प्याज की आवक, अफगानिस्तान-तुर्की से आयात ने घटाई कीमत

दिल्ली में स्थानीय उपज की आवक बढ़ने के साथ ही विदेश से आयात होने के बाद प्याज की थोक कीमतों में सोमवार को कुछ कमी देखने को मिली. अफगानिस्तान और तुर्की से भी प्याज यहां पहुंचा है.

प्याज पर सरकार एक्शन में (फाइल फोटो- PTI)
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 09 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 11:48 PM IST

  • प्याज की आवक बढ़ने से दिल्ली में प्याज की कीमतों में कमी आई
  • स्थानीय आवक के अलावा अफगानिस्तान और तुर्की से पहुंचा प्याज
  • प्याज की करीब 24,000 बोरियां दिल्ली के आजादपुर मंडी में पहुंचीं

दिल्ली में स्थानीय उपज की आवक बढ़ने के साथ ही विदेश से आयात होने के बाद प्याज की थोक कीमतों में सोमवार को कुछ कमी देखने को मिली. अफगानिस्तान और तुर्की से भी प्याज यहां पहुंचा है.

प्याज मंडी एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेंद्र शर्मा ने कहा, 'प्याज की 24,000 बोरियां आजादपुर मंडी में पहुंची हैं, जिनमें से प्रत्येक बोरी में 55 किलो प्याज है. इसी वजह से पिछले सप्ताह की तुलना में प्याज की कीमतों में कमी आई है. आजादपुर मंडी देश की सबसे बड़ी सब्जी मंडी है.  

कितनी घटी प्याज की कीमत

शर्मा ने न्यूज एजेंसी आईएएनएस को बताया कि घरेलू उपज के अलावा सोमवार को लगभग 200 टन आयातित प्याज भी मंडी में पहुंची है. सोमवार को मंडी में प्याज के थोक भाव 50 से 75 रुपये प्रति किलो के बीच रहे. एक सूत्र ने कहा कि पिछले सप्ताह के मुकाबले प्याज की कीमतों में पांच रुपये प्रति किलो तक की कमी आई है.

एक सूत्र के मुताबिक, 'पिछले दो दिनों में प्याज के 80 से अधिक ट्रक अफगानिस्तान से आए. सीमावर्ती राज्य पंजाब में बड़ी मात्रा में अफगानी प्याज की आपूर्ति की जा रही है.'  

गौरतलब है कि देश के कई शहरों प्याज की खुदरा कीमत 150 से 200 रुपये प्रति किलो तक पहुंच गई है. बारिश की वजह से पिछले कुछ दिनों में प्याज की आपूर्ति फिर बाधित हुई है, जिसकी वजह से रेट और बढ़ गए थे. इसकी वजह से गरीब और मध्यम वर्ग के लिए सब्जी खाना भी मुश्किल हो गया. दिल्ली-एनसीआर के बाजारों में खुदरा प्याज 80-120 रुपये किलो बिक रहा था.

15 जनवरी तक हजारों टन प्याज होगा आयात

सरकार ने इसे देखते हुए कुछ सक्रियता दिखाई है. देश में 15 जनवरी तक 21,000 टन आयातित प्याज आने की संभावना है जिसके ठेके हो चुके हैं. इसके अलावा एमएमटीसी ने 15,000 टन प्याज आयात के तीन नए टेंडर जारी किए हैं.

इस सिलसिले में केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने पिछले हफ्ते कहा था कि देश में विदेश व्यापार की सबसे बड़ी कंपनी एमएमटीसी ने 4,000 टन प्याज तुर्की से आयात करने का नया ठेका दिया है. यह प्याज जनवरी के मध्य तक देश में आएगा. साथ ही, एमएमटीसी ने 15,000 टन प्याज मंगाने के तीन नए टेंडर जारी किए हैं.

बताया जा रहा है कि 6,090 टन प्याज मिस्र से अगले कुछ दिनों में आएगा, जबकि तुर्की से 11,000 टन प्याज इस महीने के आखिर में यह जनवरी के पहले सप्ताह में आएगा. 

Read more!

RECOMMENDED