शाहीन बाग पहुंच मणिशंकर बोले- देखते हैं किसका हाथ मजबूत है, हमारा या कातिलों का

अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने एक बार विवादित बयान दिया है. मंगलवार को दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचे मणिशंकर अय्यर ने कहा कि देखते हैं किसका हाथ मजबूत है, हमारा या कातिलों का.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर (फाइल फोटो)
मुनीष पांडे
  • नई दिल्ली,
  • 14 जनवरी 2020,
  • अपडेटेड 10:34 PM IST

  • वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मणिशंकर अय्यर ने फिर दिया विवादित बयान
  • बोले- देखते हैं किसका है हाथ मजबूत, हमारा या कातिलों का

अपने बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने एक बार विवादित बयान दिया है. मंगलवार को दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचे मणिशंकर अय्यर ने कहा कि देखते हैं किसका हाथ मजबूत है, हमारा या कातिलों का.

दरअसल, शाहीन बाद में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के विरोध में बीते एक महीने से लोगों का प्रदर्शन जारी है. मणिशंकर अय्यर मंगलवार को इन्हीं प्रदर्शनकारियों के बीच पहुंचे. उन्होंने कहा कि मैं शाहीन बाग के लोगों का समर्थन करने आया हूं.

विवादित बयान को लेकर जब इंडिया टुडे ने उनसे बात की तो उन्होंने कहा कि मुझे जो कहना था मैंने कह दिया. आपके कैमरे ने रिकॉर्ड कर लिया. कांग्रेस नेता से जब पूछा गया कि सरकार कहती है यह कानून मुसलमानों के खिलाफ नहीं है तो इसपर उन्होंने कहा कि सरकार क्या कह रही है इससे मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता.

एक महीने से जारी है शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन

नागरिकता संशोधन एक्ट और नेशनल रजिस्टर फॉर पॉपुलेशन के खिलाफ बीते एक महीने से दिल्ली के शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन चल रहा है. इस प्रदर्शन की वजह से दिल्ली से नोएडा जाने वाला रास्ता जाम है और इसी समस्या पर दिल्ली हाईकोर्ट में जब मामले की सुनवाई हुई तो अदालत ने प्रशासन को कानून के मुताबिक काम करने को कहा है.

पुलिस प्रदर्शनकारियों को जबरन नहीं हटाएगी

दिल्ली पुलिस शाहीन बाग से प्रदर्शनकारियों को जबरन नहीं हटाएगी. पुलिस नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों को समझाने की कोशिश करेगी. जानकारी के मुताबिक, पुलिस इलाके के कुछ प्रमुख व्यक्तियों से मिलकर मामले को सुलझाने की कोशिश कर रही है. दिल्ली पुलिस ने कहा कि आज किसी भी प्रकार का बल प्रयोग नहीं होगा.

Read more!

RECOMMENDED