किसी ने हमारी सीमाओं की ओर आंख उठाकर देखा, तो उसी भाषा में देंगे जवाबः गडकरी

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि हम किसी की जमीन नहीं हड़पना चाहते हैं. हमने कभी भूटान और नेपाल जैसे छोटे मुल्कों की तरफ आंख उठाकर नहीं देखा. हमने बांग्लादेश की एक इंच जमीन कभी भी नही हड़पी. साथ ही हमने बांग्लादेश को आजाद कराया.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (फाइल फोटो)
शरत कुमार
  • जयपुर,
  • 28 जून 2020,
  • अपडेटेड 12:50 AM IST

  • हम न विस्तारवादी हैं और न ही किसी देश में आतंकवाद का समर्थन करतेः गडकरी
  • केंद्रीय मंत्री ने कहा- बांग्लादेश को आजाद कराया, पर एक इंच भी जमीन नहीं हड़पी

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को 'राजस्थान जनसंवाद' रैली को संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने चीन और पाकिस्तान को कड़ा संदेश दिया. उन्होंने साफ कहा कि हम किसी पर आक्रमण नहीं करना चाहते, लेकिन अगर कोई हमारी सीमाओं की तरफ आंख उठाकर देखेगा, तो हमें उसी भाषा में जवाब देना आता है, जिसके लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने वर्चुअल रैली को संबोधित करते हुए कहा, 'हम न विस्तारवादी हैं और न ही किसी देश में आतंकवाद का समर्थन करते हैं. हम शांति और अहिंसा चाहते हैं, लेकिन मेरा मानना है कि सिर्फ ताकत से ही अपने लोगों की रक्षा और शांति स्थापित की जा सकती है. इसी वजह से हम भारत को मजबूत बनाने का काम कर रहे हैं.'

नितिन गडकरी ने कहा कि हम किसी देश पर आक्रमण नहीं करेंगे, लेकिन अगर कोई नजर उठाकर हमें देखेगा, तो हम आंख निकालने की क्षमता रखते हैं. भारतीय सुरक्षा बलों की वीरता की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे जवानों का पराक्रम जबरदस्त है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि हम किसी की जमीन नहीं हड़पना चाहते हैं. हमने कभी भूटान और नेपाल जैसे छोटे मुल्कों की तरफ आंख उठाकर नही देखा. हमने बांग्लादेश की एक इंच जमीन कभी भी नही हड़पी. साथ ही हमने बांग्लादेश को आजाद कराया.

इसे भी पढ़ेंः भारत-चीन तनाव के बीच शंघाई में मनाया गया छठा अंतरराष्ट्रीय योग दिवस

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए गडकरी ने कहा कि आज देश की सीमा पूरी तरह सुरक्षित है. जो 50-60 साल में कांग्रेस ने नहीं किया, वो 6 साल में हमने करके दिखा दिया है. सीमा पर चारों ओर सड़क बनाई जा रही हैं. चार धाम रोड चीन और नेपाल की सीमा तक बनाई जा रही है, जिस पर 12 हजार करोड़ का खर्च आएगा. मानसरोवर तक जाने के लिए भारत से होकर रास्ता बनाया जा रहा है. यह सड़क उत्तराखंड के पिथौरागढ़ से होकर बनाई जा रही है.

गडकरी ने कहा कि छह महीने में यह रोड बनकर तैयार हो जाएगी. उसी तरह अरुणाचल प्रदेश में फ्रंटियर हाईवे बनाया जा रहा है. गडकरी ने कहा कि अनुच्छेद 370 के खत्म होने के बाद अब जम्मू-कश्मीर से आंतकवाद खत्म होने वाला है. विकास की नई धारा वहां शुरू हो गई है. जोजिला पास में टनल, आईआईटी और एम्स बनाए जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंः चीन पर मिलिंद देवड़ा ने बढ़ाई कांग्रेस की मुश्किल, पहले भी दे चुके हैं पार्टी से हटकर बयान

Read more!

RECOMMENDED