Sankashti chaturthi 2020: जानें कौन से उपाय करने से गणपति देंगे महावरदान

संकष्टी चतुर्थी (Sankashti chaturthi 2020 ) को भगवान गणपति की आराधना करके विशेष वरदान प्राप्त किया जा सकता है और सेहत की समस्या को भी हमेशा के लिए खत्म किया जा सकता है.

बुद्धि के प्रदाता गणपति को संकष्टी चतुर्थी पर प्रसन्न कर आपकी मनचाही इच्छाएं पूरी हो सकती हैं.
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 12 फरवरी 2020,
  • अपडेटेड 9:36 AM IST

संकष्टी चतुर्थी (Sankashti chaturthi 2020 ) के दिन भगवान गणपति की पूरे विधि-विधान के साथ पूजा करने से सारी इच्छाएं पूरी होती हैं. संकष्टी चतुर्थी हर महीने की कृष्ण पक्ष और शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को मनाई जाती है. 12 फरवरी यानी आज संकष्टी चतुर्थी है. पूर्णिमा के बाद आने वाली चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी कहते हैं और अमावस्या के बाद आने वाली चतुर्थी को विनायक चतुर्थी (vinayak chaturthi 2020) कहते हैं.

संकष्टी चतुर्थी को भगवान गणपति (Lord Ganesha) की आराधना करके विशेष वरदान प्राप्त किया जा सकता है और सेहत की समस्या को भी हमेशा के लिए खत्म किया जा सकता है. किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले भगवान गणेश की अराधना की जाती है. आइए आपको बाताते हैं इस संकष्टी चतुर्थी पर  कौन से उपाय कर आपको महावरदान प्राप्त हो सकता है.

पढ़ें: शनि की दूसरी राशि में आ रहे हैं शनि, 2 राशियों की बढ़ेंगी मुश्किलें

गणेश की कौन सी सरल पूजापाठ से मिलेगा धन?

- भगवान गणेश बुद्धि और विवेक का देवता माना जाता है

- इनकी पूजापाठ से अत्यंत कुशाग्र बुद्धि और विद्या की प्राप्ति बहुत ही आसानी से हो जाती है

- हमें धन कमाने में भी  बुद्धि और विवेक की आवश्यकता होती है जो गणेश जी की कृपा से सरलता से मिल जाती है

- इसके अलावा अगर धन सम्बन्धी कोई भी बाधा आ रही हो तो वो भी इनकी कृपा से समाप्त हो जाती है

- भगवान गणेश की उपासना के विशेष प्रयोग करने वाले को कभी भी धन का अभाव नहीं हो सकता

- लाल गुलाब या गुड़हल के 27 फूल बुधवार की सुबह भगवान गणेश को गं मन्त्र का उच्चारण करते हुए अर्पण करें और प्रणाम करें

कैसे मिलेगा गणेश जी की कृपा से धन?

- शुक्लपक्ष के बुधवार को गणेश जी की हरे रंग की  फोटो या मूर्ति उत्तर दिशा को साफ करके स्थापित करें

- नित्य प्रातः 27 हरी दूर्वा की पत्ती गणेश जी को अर्पित करें

- इसके बाद ॐ नमो भगवते गजाननाय का 108 बार जाप लाल आसन पर बैठकर करें

- यह उपाय लगातार कम से कम 11 दिन तक करें

- हर रोज सुबह और शाम भगवान गणपति को पीले रंग का एक मोदक भी अर्पण करें  और यह मोदक बच्चों में बांट दें

कैसे बेवजह धन खर्च को रोकेंगे गणेश जी?

- अपने घर या व्यापार की पूर्व दिशा की तरफ गणेश जी की पीले रंग की मूर्ति स्थापित करें

- रोली मौली चावल धूप दीप से पूजन करें और हरी दूर्वा अर्पण करें

- नित्य प्रातः पीले मोदक (लड्डू) चढाएं

- ॐ हेरम्बाय नमः मन्त्र का लाल चंदन की माला से 108 बार जाप करें

- यह उपाय 27  दिनों तक  लगातार करें आपका बेवजह धन खर्च अवश्य रुकेगा

- नारंगी रंग के भगवान गणेश की स्थापना करें

- नित्य प्रातः गणेश जी को 11 लाल पुष्प अर्पित करें

- इसके बाद  वक्रतुण्डाय हुं मन्त्र का रुद्राक्ष की माला से 108 बार जाप करें

- यह उपाय लगातार 27 दिनों तक करें

- ऐसा करने से आपका पैसा बीमारियों पर खर्च होने से रुक जाएगा

व्यवसाय या नौकरी में धन की बढ़ोत्तरी का उपाय

- घर की उत्तर दिशा में भगवान गणेश जी के साथ माँ लक्ष्मी जी की स्थापना करें

- गणेश जी और लक्ष्मी जी को गुलाब का इत्र और पीले फूल अर्पित करें

- इसके बाद ॐ गं गणपतये नमः मन्त्र 108 बार जपें

- यह उपाय हर बुधवार और शुक्रवार को करें और लगातार तब तक करें जब तक कार्य सिद्ध न हो

Read more!

RECOMMENDED