लॉकडाउन में लोगों की सेक्स लाइफ को लेकर रिसर्च में हुए ये खुलासे

UK की एक स्टडी के अनुसार कोरोना वायरस की वजह से लोग परेशान और तनाव में हैं. यही वजह है कि लॉकडाउन में पूरे समय साथ रहने के बावजूद कपल्स शारीरिक संबंध बनाने में दूरी रख रहे हैं.

लॉकडाउन में कपल्स पर हुआ रिसर्च
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 12 जून 2020,
  • अपडेटेड 7:24 PM IST

अगर आपको लगता है कि लॉकडाउन की वजह से कपल्स एक-दूसरे के साथ पहले से ज्यादा एन्जॉय कर रहे हैं और बेड पर ज्यादा समय साथ बिता रहे हैं तो आपका अंदाजा बिल्कुल गलत है. नए रिसर्च की मानें तो इस महामारी के दौरान 10 में से 6 लोगों ने सेक्स से दूरी बनाई हुई है. ये स्टडी द जर्नल ऑफ सेक्शुअल मेडिसिन में प्रकाशित हुई है.

UK की एंग्लिया रस्किन यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डॉक्टर ली स्मिथ और मार्क टुली के नेतृत्व में की गई इस स्टडी के अनुसार ब्रिटेन के केवल 40 फीसदी लोगों ने सप्ताह में कम से कम एक बार सेक्स किया है. सर्वे में शामिल लोगों में से 39.9 फीसदी लोगों ने पिछले कुछ दिनों में किसी ना किसी तरह की सेक्सुअल एक्टिविटी की थी.

ये भी पढ़ें: क्या इनसिक्योर है आपका पार्टनर? इन 5 बातों से करें पता

स्टडी के लेखकों का कहना है कि महामारी की वजह से हो रहा तनाव और लॉकडाउन की वजह से ज्यादातर लोग इस समय शारीरिक संबंध नहीं बना पा रहे हैं. डॉक्टर स्मिथ ने कहा, 'लॉकडाउन की वजह से लोग घरों में हैं और इस रिसर्च को शुरू करते समय हमें उम्मीद थी कि कपल्स के बीच यौन गतिविधियां ज्यादा हो रही होंगी लेकिन दिलचस्प बात यह है कि हमें इसके बहुत कम मामले मिले.

स्टडी के लेखकों का कहना है कि इस समय ज्यादातर लोग महामारी की वजह से चिंता में हैं और मूड सही ना होने की वजह से सेक्स से दूरी बनाए हुए हैं. इसके अलावा जो लोग शादीशुदा नहीं हैं वो लॉकडाउन की वजह से अपने सेक्सुअल पार्टनर से नहीं मिल पा रहे हैं.

Read more!

RECOMMENDED