नेहरू से मोदी की तुलना पर बोले गहलोत, 'कहां राजा भोज, कहां गंगू...'

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरू 10 सालों तक जेल में रहे और 17 साल प्रधानमंत्री रहे, उनकी वजह से ही आज देश में लोकतंत्र स्थापित हो पाया है. उन्होंने कहा कि आरएसएस के लोग देश को तोड़ना चाहते हैं.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (फोटो-ट्विटर)
शरत कुमार
  • जयपुर,
  • 14 नवंबर 2019,
  • अपडेटेड 9:39 PM IST

  • बाल दिवस पर आय़ोजित कार्यक्रम में दिया ये बयान
  • गहलोत बोले- RSS के लोग देश को तोड़ना चाहते हैं

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पीएम मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की तुलना करते हुए कहा कि 'कहां राजा भोज, कहां गंगू तेली.'

बाल दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में सीएम अशोक गहलोत ने कहा '4 महीने सत्ता में आए हुए थे और मंगलयान ऐसे भेज रहे थे जैसे उन्होंने ही जादू से तैयार कर दिया हो. जादूगर तो मैं हूं और ये जादू करने चले थे. गहलोत ने यह भी कह दिया कि आरएसएस के लोग गाय माता की पूंछ पकड़कर वैतरणी पार करना चाहते हैं.

RSS के लोग देश तोड़ना चाहते हैं

अशोक गहलोत ने कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरू 10 सालों तक जेल में रहे और 17 साल प्रधानमंत्री रहे. उनकी वजह से ही आज देश में लोकतंत्र स्थापित हो पाया है. उन्होंने कहा कि आरएसएस के लोग देश को तोड़ना चाहते हैं. लोकतंत्र को खत्म करना चाहते हैं, इसीलिए सबसे ज्यादा हमला पंडित नेहरू पर करते हैं.

सोशल मीडिया पर फैलाई जाती है नफरत

सीएम ने कहा कि सोशल मीडिया के जरिए नेहरू के खिलाफ नफरत फैलाई जा रही है. इसे नई पीढ़ी के बच्चों को समझना होगा. उन्होंने कहा कि मेरे बयानों को भी तोड़ मोड़कर सोशल मीडिया में डाल दिया था, जिसकी सफाई देने के लिए मुझे आगे आना पड़ा था. इस तरह की हरकत करने वाले यही लोग हैं. बीजेपी ने कांग्रेस शासन के 70 साल के काम पर 4 महीने में पानी फेर दिया है.

33 जिलों में आयोजित करेंगे कार्यक्रम

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नेहरू की विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए आज दिनभर जयपुर में जगह-जगह कार्यक्रम आयोजित किए गए थे. गहलोत ने कहा कि मैं राजस्थान के सभी 33 जिलों में जाऊंगा और पंडित नेहरू के विचारों से युवा पीढ़ी को अवगत कराऊंगा. इसके लिए हमने कार्यक्रम भी शुरू कर दिए है.

Read more!

RECOMMENDED