महाराष्ट्र: छगन भुजबल-जयंत पाटिल के पोर्टफोलियो में बदलाव, अब मिला ये विभाग

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने छगन भुजबल और जयंत पाटिल के पोर्टफोलियो में बदलाव किया है. जयंत पाटिल को अब जल संसाधन और क्षेत्रीय विकास सौंपा गया है.

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो- PTI)
मुस्तफा शेख
  • मुंबई,
  • 14 दिसंबर 2019,
  • अपडेटेड 7:31 PM IST

  • सीएम उद्धव ठाकरे की कैबिनेट में बड़ा बदलाव
  • जयंत पाटिल और छगन भुजबल का बदला विभाग

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने छगन भुजबल और जयंत पाटिल के पोर्टफोलियो में बदलाव किया है. जयंत पाटिल को अब जल संसाधन और क्षेत्रीय विकास सौंपा गया है. वहीं छगन भजुबल को खाद्य और नागरिक आपूर्ति, अल्पसंख्यक विकास एंड वेलफेयर विभाग सौंपा है.

महाराष्ट्र सरकार में इन दोनों मंत्रियों के अलावा अन्य मंत्रियों के विभाग में बदलाव नहीं हुआ है. गौरतलब है कि इससे पहले मंत्रालय के बंटवारे में शिवसेना ने कांग्रेस के हिस्से में उच्च और तकनीकी शिक्षा, राजस्व, स्कूल और चिकित्सा शिक्षा, महिला बाल विकास के अलावा PWD विभाग दिया था. वहीं एनसीपी को वित्त मंत्रालय के अलावा ग्रामीण विकास , जल संसाधन, सामाजिक न्याय मंत्रालय मिला था.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने पास कोई भी मंत्रालय नहीं रखा था. शिवसेना के वरिष्ठ नेता एकनाथ शिंदे को गृह, शहरी विकास, वन, पर्यावरण, जल आपूर्ति, सिंचाई, पर्यटन, पीडब्लूडी और संसदीय कार्य दिया गया था.

किन-किन नेताओं को बनाया गया मंत्री?

कांग्रेस नेता बाला साहब थोराट को राजस्व, बिजली, मेडिकल शिक्षा, स्कूल शिक्षा, पशुपालन, डेयरी विकास और फिशरीज दिया गया.

शिवसेना नेता सुभाष देसाई को उद्योग और खनन, उच्चा और तकनीकी शिक्षा, स्पोर्ट्स और युवा विकास, कृषि, रोजगार गारंटी, परिवहन और माराठी भाषा मंत्रालय दिया गया है.

कांग्रेस नेता नितिन राउत को एमएसआरडीसी, आदिवासी विकास, महिला एवं बाल विकास, राहत और पुनर्वास और ओबीसी मंत्रालय शामिल है.

Read more!

RECOMMENDED