सेक्शन 375 के राइटर ने बताया किस एक्टर पर आधारित है फिल्म की कहानी

अक्षय खन्ना और ऋचा चड्ढा स्टारर फिल्म सेक्शन 375 की काफी सराहना हो रही है. दर्शकों को एक्टर्स का अभिनय और फिल्म की कहानी दोनों पसंद आ रहे हैं.

सेक्शन 375
aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 17 सितंबर 2019,
  • अपडेटेड 10:18 PM IST

अक्षय खन्ना और ऋचा चड्ढा स्टारर फिल्म सेक्शन 375 की काफी सराहना हो रही है. दर्शकों को एक्टर्स का अभिनय और फिल्म की कहानी दोनों पसंद आ रहे हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस फिल्म की कहानी एक्टर शाइनी आहूजा के रेप केस पर आधारित है? सेक्शन 375 की कहानी लिखने वाले राइटर मनीष गुप्ता ने बताया कि वह शाइनी आहूजा के रेप केस की कहानी से बहुत प्रभावित हैं और इसी से उन्हें ये फिल्म बनाने का आइडिया आया था.

एक रिपोर्ट के मुताबिक मनीष ने बताया कि शाइनी आहूजा के ट्रायल के दौरान कुछ डिस्टर्बिंग चीजें हुई थीं. एक्टर पर अपनी काम वाली के साथ रेप करने का आरोप लगा था और हाई कोर्ट से जमानत मिलने से पहले सेशन कोर्ट ने उसे 7 साल की जेल की सजा सुनाई थी. द क्विंट के साथ बातचीत में मनीष ने बताया, "मेरी फिल्म जाहिर तौर पर शाइनी आहूजा के रेप केस से प्रभावित है क्योंकि मैं निजी तौर पर उसे जानता था."

मनीष ने कहा, "साल था 2009. इस साल में मुझे शाइनी के साथ एक फिल्म करनी थी. ये फिल्म गैंग्सटर चार्ल्स सोबराज पर आधारित होने वाली थी. तो मैं ओशिवारा में स्थित शाइनी के घर पर उनसे और उनकी पत्नी से मिलने जाने लगा. वो उनकी मैनेजर थीं तो मैं उनसे बात करता था. और वहां ये मेड भी थी, एक बहुत जवान मेड जो इस घर में काम करती थी."

मनीष ने बताया, "वो मुझे पानी वगैरह लाकर दिया करती थी. एक शाम मुझे पता चला कि शाइनी को एक लड़की से रेप के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. मैं हैरान था. मैं जल्दी से पुलिस स्टेशन गया. ओशिवरा पुलिस स्टेशन." उन्होंने बताया कि वह डीसीपी से मिले जिसने उन्हें बताया कि शाइनी और मेड के बीच संबंध बना था ये कंफर्म हो गया है, हालांकि अभी ये साबित नहीं हुआ है कि ये जान बूझकर किया गया या फिर ये रेप है."

जब वह शाइनी की पत्नी से मिले तो उन्होंने बताया कि किस तरह से डीएनए रिपोर्ट को भी मैन्यूपुलेट किया जा सकता है. ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें पुलिस की जांच पर संदेह था. उन्होंने बताया, "शाइनी का करियर चौपट हो गया था. वह 4-5 महीने जेल में रहा और जब बाहर आया तो अभी ये कलंक उसके माथे पर था."

उन्होंने कहा, "कल्पना करिए. यदि आप पर बलात्कार का आरोप लग जाता है तो कोई भी आपसे बात नहीं करना चाहता. सब आपसे कटना शुरू कर देते हैं. उस शर्म को महसूस करिए जो आपके परिवार को आप पर आती है. उस इंसान की पूरी जिंदगी खराब हो जाती है. उसका करियर चौपट हो जाता है."

Read more!

RECOMMENDED