scorecardresearch
 

कंबोडिया में बाइडेन से मिले उप राष्ट्रपति धनखड़, समिट में लिया आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई का संकल्प

कंबोडिया में चल रहे आसियान-भारत स्मारक शिखर सम्मेलन और 17वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में शिरकत करने उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ कंबोडिया की यात्रा पर हैं. उपराष्ट्रपति ने रविवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से मुलाकात की. साथ ही अपने संबोधन में कहा कि भारत और आसियान देशों को आतंकवाद के खिलाफ सहयोग बढ़ाने का संकल्प लेने की जरूरत है.

X
कंबोडिया में जो बाइडेन से मिले उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़
कंबोडिया में जो बाइडेन से मिले उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने रविवार को कंबोडिया के नोम पेन्ह में चल रहे 17वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में शिरकत की. इस दौरान धनखड़ ने अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन से मुलाकात की. उपराष्ट्रपति धनखड़ विदेश मंत्री डॉक्टर जयशंकर के साथ आसियान-भारत स्मारक शिखर सम्मेलन और 17वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन में शिरकत करने के लिए कंबोडिया की यात्रा पर हैं

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने रविवार को पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन को संबोधित किया. इससे पहले उप राष्ट्रपति धनखड़ ने शनिवार को अपने संबोधन में भारत और आसियान देशों के संबंधों पर चर्चा करते हुए इस बात पर जोर दिया कि हमें एक व्यापक रणनीतिक साझेदारी स्थापित करनी होगी. साथ ही कहा था कि आतंकवाद के खिलाफ सहयोग बढ़ाने का संकल्प लेने की जरूरत है.

धनखड़ ने सार्वजनिक स्वास्थ्य, नवीकरणीय ऊर्जा और स्मार्ट कृषि के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के लिए आसियान-भारत विज्ञान और प्रौद्योगिकी कोष में 5 मिलियन अमरीकी डॉलर के अतिरिक्त योगदान की घोषणा की.

एक संयुक्त बयान में आसियान-भारत ने दक्षिण पूर्व एशिया और भारत के बीच गहरे संबंधों, समुद्री संपर्क और सांस्कृतिक आदान-प्रदान को मजबूत करने पर जोर दिया. साथ ही कहा कि पिछले 30 साल में ये संबंध मजबूत हुए हैं. 

भारत और आसियान देशों ने डिजिटल परिवर्तन, डिजिटल व्यापार, डिजिटल कौशल और इनोवेशन के साथ-साथ हैकथॉन में क्षेत्रीय क्षमता निर्माण गतिविधियों की श्रृंखला के माध्यम से डिजिटल अर्थव्यवस्था में सहयोग बढ़ाने की भी घोषणा की.

वहीं, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कंबोडिया के नोम पेन्ह में चल रहे 17वें पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन को संबोधित किया. बाइडेन ने अपने संबोधन में कहा था कि हम कंबोडिया में एक साथ वापस आ गए हैं, तो मैं पहले से कहीं अधिक मजबूत प्रगति के निर्माण के लिए तत्पर हूं. 

ये भी देखें


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें