scorecardresearch
 

क्‍यूबा और चीन में अमेरिकी राजनयिकों पर माइक्रोवेव हथियारों से हमले का संदेह

हालांकि क्यूबा ने इन घटनाओं में किसी भी भूमिका, या इस बारे में जानकारी होने से पूरी तरह से इनकार किया है. विदेश विभाग ने जून, 2018 में घोषणा की थी कि उसने इस तरह की घटनाएं सामने आने के बाद चीन से अमेरिकी सरकारी कर्मियों को घर भेजा था.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

क्यूबा और चीन में 36 से अधिक अमेरिकी राजनयिकों और उनके परिवारों के रहस्यमय बीमारी से पीड़ित होने को लेकर डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने माइक्रोवेव हथियारों से हमले का संदेह जताया है.

'द न्यूयार्क टाइम्स' की रिपोर्ट में रविवार को यह जानकारी दी गई है. रिपोर्ट के अनुसार पीड़ितों ने अपने होटल के कमरों या घरों में तीव्र ध्वनि सुनने के बाद जी मिचलाना, गंभीर रूप से सिर दर्द, थकान, चक्कर आना, नींद की समस्याएं और सुनने में कमी जैसे लक्षणों के बारे में सूचना की.

क्यूबा में प्रभावित 21 लोगों की जांच करने वाली एक मेडिकल टीम ने अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के जर्नल में मार्च में प्रकाशित एक अध्ययन में माइक्रोवेव हथियारों का उल्लेख नहीं किया था. लेकिन पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय में सेंटर फॉर ब्रेन इंजेरी एंड रिपेयर के निदेशक डगलस स्मिथ ने बताया कि माइक्रोवेव हथियारों को अब मुख्य संदिग्ध माना जाता है. टीम तेजी से यह सुनिश्चित कर रही है कि क्या राजनयिकों को मस्तिष्क की चोट का सामना करना पड़ा.

डगलस स्मिथ के हवाले से कहा गया था कि हर कोई पहले अपेक्षाकृत असंमजस में था और अब सभी सहमत हैं कि वहां कुछ है. न तो विदेश विभाग और न ही एफबीआई ने सार्वजनिक रूप से माइक्रोवेव हथियारों के जिम्मेदार होने की ओर इशारा किया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें