scorecardresearch
 

यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की कार का एक्सीडेंट, युद्ध क्षेत्र का दौरा कर लौट रहे थे

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमीर जेलेंस्की की कार का कीव में एक्सीडेंट हो गया. हालांकि, जेलेंस्की सुरक्षित हैं. इस कार हादसे में जेलेंस्की को कोई गंभीर चोट नहीं आई है. बताया जा रहा है कि जेलेंस्की युद्ध क्षेत्र का दौरा कर लौट रहे थे, तभी ये हादसा हुआ.

X
यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की कार का एक्सीडेंट (फाइल फोटो)
यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की की कार का एक्सीडेंट (फाइल फोटो)

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमीर जेलेंस्की की कार का कीव में एक्सीडेंट हो गया. हालांकि, जेलेंस्की सुरक्षित हैं. इस कार हादसे में जेलेंस्की को कोई गंभीर चोट नहीं आई. बताया जा रहा है कि जेलेंस्की युद्ध क्षेत्र का दौरा कर लौट रहे थे, तभी ये हादसा हुआ.

राष्ट्रपति के प्रवक्ता ने बयान जारी कर बताया कि एक कार यूक्रेन के राष्ट्रपति की कार और एस्कॉर्ट वाहन से टकरा गई. इसके बाद जेलेंस्की के साथ मौजूद डॉक्टरों ने ड्राइवर को तुरंत शुरुआती इलाज के बाद एंबुलेंस से अस्पताल भेज दिया. बयान में कहा गया है कि राष्ट्रपति जेलेंस्की की भी जांच की गई. उन्हें कोई गंभीर चोट नहीं आई है. सुरक्षाबल इस एक्सीडेंट की वजह की जांच करने में जुट गए हैं. 

इससे पहले बुधवार को जेलेंस्की ने यूक्रेनी सेना द्वारा रूस से खाली कराए गए खारकीव के इजियम शहर का दौरा किया. सेना के फेसबुक पेज पर इसकी फोटो भी शेयर की गई हैं. इसमें देखा जा सकता है कि जेलेंस्की शहर के प्रशासनिक भवन के ऊपर यूक्रेन का झंडा फहरा रहे हैं. इस दौरान उनके साथ  रक्षा उप मंत्री हन्ना मलियर भी मौजूद थीं. 

एक दिन पहले ही जेलेंस्की ने रूस के साथ जारी जंग में यूक्रेन को बढ़त मिलने का दावा किया था. उन्होंने कहा था कि सात महीनों से जारी इस युद्ध में यूक्रेन डटकर रूस का सामना कर रहा है. यूक्रेन किसी भी कीमत पर घुटने टेकने को तैयार नहीं है. 

जेलेंस्की ने दावा किया था कि पिछले 12 दिनों में उनकी सेना ने रूस के कब्जे से अपना लगभग 6,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र वापस छीन लिया. जेलेंस्की ने देश की जनता को संबोधित कर बताया था कि सितंबर की शुरुआत से लेकर अब तक हमारे जवानों ने यूक्रेन के पूर्वी और दक्षिणी क्षेत्रों से 6,000 वर्ग किलोमीटर हिस्से को आजाद करा लिया है.

उन्होंने आगे कहा था कि अब हम रूस की सेना से और हिस्से वापस छीनने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं. इसके अलावा ऐसी भी रिपोर्ट्स हैं कि यू्क्रेन की सेना रूस की सीमा तक पहुंच गई है और वह एक के बाद एक अपने गांवों को रूस के कब्जे से आजाद करा रही है.

रूस पर भारी पड़ रहा यूक्रेनः अमेरिका

एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, व्हाइट हाउस में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के स्ट्रैटेजिक कम्युनिकेशंस के समन्वयक जॉन किर्बी ने कहा था कि हम यूक्रेन युद्ध पर करीब से नजर रखे हुए हैं. दक्षिण की तुलना में उत्तर में हो रही घटनाएं अधिक नाटकीय हैं. मैं राष्ट्रपति जेलेंस्की को यह तय करने दूंगा कि क्या उन्हें लगता है कि वे निर्णायक मोड़ पर पहुंच गए हैं. लेकिन स्पष्ट रूप से कम से कम डोनबास में तो यही लगता है कि यूक्रेन की सेना ने रूस पर बढ़त बना ली है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें