scorecardresearch
 

ब्रिटेन चुनाव: एग्जिट पोल में बोरिस जॉनसन की कंजर्वेटिव पार्टी को स्पष्ट बहुमत

यूरोपीय संघ से बाहर निकलने के बाद देश का भविष्य कैसा होगा, इस विषय पर होने वाली कार्रवाई का निर्धारण भी इसी चुनाव के माध्यम से होगा. एग्जिट पोल की माने तो बोरिस जॉनसन की कंजर्वेटिव पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलता हुआ दिख रहा है.

ब्रिटेन में आम चुनाव (आईएएनएस) ब्रिटेन में आम चुनाव (आईएएनएस)

  • ब्रिटेन में ब्रेक्जिट के गतिरोध को दूर करने के लिए हुए आम चुनाव
  • एक्जिट पोल में बोरिस जॉनसन की कंजर्वेटिव पार्टी को स्पष्ट बहुमत

पूरे ब्रिटेन में गुरुवार को मतदाताओं ने देश के एक ऐतिहासिक और निर्णायक आम चुनाव के लिए मतदान किया. यूरोपीय संघ (ईयू) से बाहर निकलने के बाद देश का भविष्य कैसा होगा? इस विषय पर होने वाली कार्रवाई का निर्धारण भी इसी चुनाव के माध्यम से होगा. हालांकि, एग्जिट पोल की माने तो बोरिस जॉनसन की कंजर्वेटिव पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिलता हुआ दिख रहा है.

एग्जिट पोल- कंजर्वेटिव पार्टी को 368 सीटें

एग्जिट पोल के मुताबकि, 650 सीटों वाली संसद में कंजर्वेटिव पार्टी को 338, लेबर पार्टी को 191, स्कॉटिश नेशनल पार्टी (एसएनपी) को 55, लिबरल डेमोक्रेट्स को 13 सीट मिलती दिख रही है. हालांकि, आधिकारिक परिणाम अगले कुछ घंटे में घोषित किए जाएंगे.

वहीं, पिछले चुनाव के एग्जिट पोल पर गौर करें तो अनुमान से नतीजे अलग थे. 2015 के चुनाव में एग्जिट पोल ने त्रिशंकु संसद की भविष्यवाणी की थी, हालांकि, तब कंजर्वेटिव पार्टी ने बहुमत हासिल किया था. उस समय कंजर्वेटिव पार्टी ने अनुमान से 14 अधिक सीटें थीं.

पांच साल में तीसरी बार आम चुनाव

‘ब्रेक्जिट’ यानी यूरोपियन संघ से अलग होने के मुद्दे पर 2016 में हुए जनमत संग्रह के बाद से देश की राजनीति शिथिल पड़ गई है. पांच साल से कम समय में तीसरी बार आम चुनाव हो रहे हैं. इसके साथ ही 1923 के बाद पहली बाद सर्दियों के महीने दिसंबर में चुनाव कराए गए.

मुकाबला सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी के नेता और प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन और विपक्षी लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन के बीच है. इंग्लैंड, वेल्स, स्कॉटलैंड और नॉर्दर्न आयरलैंड के सभी निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान केंद्र अंतरराष्ट्रीय समयानुसार सुबह सात बजे शुरू हो गए.

अधिकतर नतीजे शुक्रवार सुबह तक घोषित हो जाएंगे. अगर हाउस ऑफ कॉमन्स में किसी पार्टी के आधे सांसद (326) चुनकर आते हैं तो वही पार्टी आमतौर पर सरकार बनाती है. अगर किसी भी पार्टी के पास बहुमत नहीं है तो वह एक या दो अन्य दलों के अधिकतर सांसदों का गठबंधन बनाकर सरकार बना सकती है.

डेली मेल की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने वेस्टमिंस्टर एब्बे के बगल में मेथोडिस्ट सेंट्रल हॉल मतदान केंद्र पर अपना वोट डाला. बोरिस ब्रिटेन में प्रमुख राजनीतिक दल के ऐसे पहले नेता रहे, जिन्होंने पहले अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया. विपक्षी लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन बोरिस के मुख्य प्रतिद्वंद्वी हैं. दोनों ही नेताओं ने मतदान शुरू होने से पहले सोशल मीडिया पर पोस्ट डाला.

जॉनसन ने लिखा, "ब्रेक्सिट को पूरा करने के लिए आज हमारे पास मौका है. कंजर्वेटिव पार्टी के लिए वोट करें."

जबकि जेरेमी कॉर्बिन ने कहा, "अपने एनएचएस को बचाने, असल बदलाव लाने और कुछ के स्थान पर बहुतों के लिए कार्य करने वाला देश बनाने के लिए लेबर पार्टी को वोट दें."

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन अपनी पार्टी के ‘ब्रेक्जिट पूरा हो’ के संदेश पर ध्यान केंद्रित किए हुए हैं जबकि विपक्षी दल अंतिम ब्रेक्जिट समझौते पर फिर से जनमत संग्रह कराना चाहते हैं और वे घरेलू मुद्दों जैसे कि संकटग्रस्त सरकार पोषित राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के मुद्दे पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं.

31 अक्टूबर की अंतिम समयसीमा तक ब्रेक्जिट लागू करने में नाकाम रहने के बाद जॉनसन ने 12 दिसंबर को चुनाव कराने की घोषणा कर दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें