scorecardresearch
 

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच आज QUAD की मीटिंग, आमने-सामने होंगे PM मोदी और US प्रेसिडेंट बाइडेन

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच आज QUAD की बैठक होने जा रही है. इस बैठक में पीएम मोदी भी हिस्सा लेंगे. QUAD में भारत के अलावा अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं.

X
पीएम नरेंद्र मोदी पीएम नरेंद्र मोदी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • टाइमिंग की वजह से अहम हो गई ये QUAD बैठक
  • पिछले साल सितंबर में साथ बैठे QUAD नेता

रूस और यूक्रेन के बीच जारी युद्ध के बीच आज QUAD की अहम बैठक होने वाली है. वैसे तो इस बैठक का रूस-यूक्रेन युद्ध से कोई कनेक्शन नहीं है, लेकिन मीटिंग की टाइमिंग की वजह से ये काफी अहम बन गई है. बैठक में पीएम मोदी भी मौजूद रहने वाले हैं, और अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन भी अपने विचार रखने जा रहे हैं.

पिछले साल सितंबर में आखिरी बार QUAD की बैठक हुई थी, अब इस साल पहली बार फिर QUAD के सभी देश साथ आ रहे हैं. वर्चुअल बैठक होने जा रही है और भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया हिस्सा लेने जा रहे हैं. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में बताया है कि इस बैठक के दौरान इंडो-पैसेफिक रीजन को लेकर चर्चा होने वाली है. वहीं इसके अलावा कुछ लक्ष्य जो निर्धारित किए गए हैं, उसका रिपोर्ट कार्ड भी पेश किया जाएगा. ऐसे में रूस-यूक्रेन युद्ध का एजेंडे में कोई स्थान नहीं है, लेकिन कहा जा रहा है कि वर्तमान परिस्थिति पर भी मंथन हो सकता है.

अभी इस समय इस युद्ध को लेकर भारत और अमेरिका की राय काफी अलग चल रही है. एक तरफ भारत लगातार न्यूट्रल खेल रहा है तो वहीं दूसरी तरफ अमेरिका पूरी तरह यूक्रेन के पक्ष में खड़ा है. युद्ध में शामिल नहीं हुआ है, लेकिन कई तरह के प्रतिबंध लगा रहा है. कल भी अपने संबोधन के दौरान राष्ट्रपति बाइडेन ने वर्तमान युद्ध के लिए पूरी तरह पुतिन को जिम्मेदार बताया है. ऐसे में अब जब QUAD बैठक में पीएम मोदी और जो बाइडेन आमने-सामने होंगे, तो इस मुद्दे पर बड़ी चर्चा हो सकती है.

पीएम मोदी की बात करें तो उन्होंने कल राष्ट्रपति पुतिन से फोन पर दूसरी बार बात की थी. उन्होंने यूक्रेन में फंसे भारतीयों की सुरक्षा को लेकर चिंता जाहिर की थी. उस बातचीत में रूस ने दावा कर दिया था कि यूक्रेन भारतीय छात्रों को ढाल बना इस्तेमाल कर रहा है. लेकिन भारत के विदेश मंत्रालय ने रूस के इस दावे को गलत बता दिया है. उसकी नजरों में यूक्रेन की तरफ से इस रेस्क्यू में पूरा सहयोग दिया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें