scorecardresearch
 

यूक्रेन से युद्ध के बीच रूस ने न्यूक्लियर फोर्सेज को ट्रायल के लिए उतारा, दुनिया में हड़कंप!

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने बुधवार को सामरिक परमाणु बल का अभ्यास देखा. जिसमें बैलिस्टिक और क्रूज मिसाइलों के प्रक्षेपण आदि शामिल थे. क्रेमलिन ने बताया कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस के रणनीतिक प्रतिरोध बलों के प्रशिक्षण का निरीक्षण किया, जो परमाणु युद्ध के खतरों का जवाब देने के लिए हर वक्त तैनात रहता है.

X
रूस के राष्ट्रपति पुतिन
रूस के राष्ट्रपति पुतिन

रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे युद्ध को 8 महीने हो चुके हैं. दोनों ही देश एक-दूसरे की सेना का डटकर मुकाबला कर रही है. इस बीच बुधवार को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने सामरिक परमाणु बल का अभ्यास देखा. जिसमें बैलिस्टिक और क्रूज मिसाइलों के प्रक्षेपण आदि शामिल थे. एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक क्रेमलिन ने बताया कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस के रणनीतिक प्रतिरोध बलों के प्रशिक्षण का निरीक्षण किया, जो परमाणु युद्ध के खतरों का जवाब देने के लिए हर वक्त तैनात रहता है. परमाणु हमलों की चेतावनी के बीच पुतिन के इस कदम से दुनियाभर के देशों में हड़कंप मचा हुआ है.

उधर, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने रूस पर युद्ध में ईरानी ड्रोन करने का आरोप लगाया. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने कहा कि यूक्रेन के खिलाफ युद्ध में रूस ने लगभग 400 ड्रोन का इस्तेमाल किया है. वहीं अमेरिका ने एक बार फिर रूस को परमाणु हथियारों के इस्तेमाल पर चेताया और कहा है कि यह अविश्वसनीय रूप से एक गंभीर गलती होगी.

बाइडेन प्रशासन ने पहले कहा था कि रूस ने नोटिस दिया है कि वह अपनी परमाणु क्षमताओं का नियमित अभ्यास करना चाहता है, जबकि यूक्रेन के परमाणु ऊर्जा ऑपरेटर ने दावा किया कि उसका पड़ोसी यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र में कुछ गुप्त काम कर रहा है. 

बाइडेन ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, "मैं बस इतना ही कहना चाहता हूं कि अगर रूस सामरिक परमाणु हथियार का इस्तेमाल करता है तो वह अविश्वसनीय रूप से गंभीर गलती करेगा." यहां बाइडेन इस सवाल का जवाब दे रहे थे कि क्या रूस "डर्टी बम" या परमाणु हथियार तैनात करने की तैयारी कर रहा है. बाइडेन ने जोर देकर कहा कि "मैं आपको गारंटी नहीं दे रहा हूं कि यह अभी तक एक फाल्स फ्लैग ऑपरेशन है; मुझें नहीं पता. लेकिन अगर ऐसा होता है तो यह एक गंभीर गलती होगी.”

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें