scorecardresearch
 

पाकिस्तान: दो पालतू कुत्तों ने बुजुर्ग वकील को काटा, दोनों को मिली 'मौत की सजा'

पाकिस्तान के दो पालतू कुत्तों ने पड़ोसी में रहने वाले बुजुर्ग वकील (Dogs bite Advocate) को काट लिया, जिसके बाद दोनों को 'मौत की सजा' (Death Punishment) सुनाई गई है. बुजुर्ग वकील सुबह टहलने गए हुए थे, इसी दौरान डॉग्स ने उन पर हमला कर दिया.

सीसीटीवी फुटेज का स्क्रीन ग्रैब सीसीटीवी फुटेज का स्क्रीन ग्रैब
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पाकिस्तान में दो कुत्तों को 'मौत की सजा'
  • दोनों ने वकील पर किया था हमला
  • दस लाख रुपये भी एनजीओ को देने होंगे

पाकिस्तान (Pakistan) के कराची शहर में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां के दो पालतू कुत्तों ने पड़ोस में रहने वाले बुजुर्ग वकील (Dogs bite Advocate) को काट लिया, जिसके बाद दोनों को 'मौत की सजा' (Death Punishment) सुनाई गई है. दरअसल, बुजुर्ग वकील सुबह टहलने गए हुए थे, इसी दौरान कुत्तों ने उन पर हमला कर दिया.

दोनों कुत्तों को दी गई 'मौत की सजा' घटना में घायल हुए वरिष्ठ वकील और पालतू जानवर के मालिक के बीच हुए एक आउट-ऑफ-कोर्ट समझौते का हिस्सा है. गल्फ न्यूज के अनुसार, पिछले महीने, वरिष्ठ वकील मिर्जा अख्तर अली डिफेंस हाउसिंग अथॉरिटी इलाके में अपनी नियमित सुबह की सैर के दौरान गंभीर रूप से घायल हो गए थे. वहीं, पास में रहने वाले हुमायूं खान के दो कुत्तों ने बिना किसी उकसावे के उन पर बेरहमी से हमला कर दिया था और उन्हें घायल कर दिया.

शर्तों पर माफ करने को वकील हुए तैयार

जिस इलाके में यह घटना हुई थी, वहां एक सीसीटीवी कैमरा भी लगा था, जिसमें पूरी घटना रिकॉर्ड हो गई थी. घटना का वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो गया था. इस विवाद को हल करने के लिए हुए समझौते में बताया गया है कि घायल वकील मिर्जा अख्तर अली पालतू कुत्तों के मालिक हुमायूं खान को निम्नलिखित शर्तों पर माफ करने के लिए सहमत हो गए हैं. हुमायूं खान ने मिर्जा अख्तर अली से बिना शर्त माफी मांगी है.

क्लिक करें: अब कुत्ते भी लगाएंगे हेलीकॉप्टर से छलांग, रूस ने तैयार किया स्पेशल पैराशूट, Video वायरल

खतरनाक कुत्ते नहीं रखेंगे हुमायूं खान

समझौते के अनुसार, हुमायूं खान और उनका परिवार अपने घर में पालतू जानवर के रूप में किसी भी खतरनाक या क्रूर कुत्तों को नहीं रखेंगे. पालतू जानवरों के रूप में रखे गए किसी भी अन्य कुत्ते को क्लिफ्टन छावनी बोर्ड (क्षेत्र की नगरपालिका एजेंसी) में रजिस्टर करवाया जाएगा. इसके अलावा, वे बिना किसी हैंडलर के सड़कों पर नहीं जाएंगे. यदि बाहर निकलते भी हैं तो उनके गले में पट्टा होना चाहिए. 

एनजीओ को देंगे दस लाख रुपये

वहीं, घटना में शामिल दोनों कुत्तों को लेकर कहा गया है कि उन्हें पशुचिकित्सक की मदद से तुरंत मार दिया जाएगा. हुमायूं खान के पास जो भी अन्य कुत्ते हैं, वह उन्हें किसी और को दे देंगे. इसके साथ ही खान कराची में आवारा कुत्तों के आश्रय और संरक्षण के लिए काम करने वाले एक स्थानीय एनजीओ को दस लाख रुपये डोनेट करेंगे. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें