scorecardresearch
 

विवादों में नेपाली सेना, वर्दी में ही सोनाक्षी-मलाइका की अगवानी में पहुंचे अधि‍कारी

दोनों अभिनेत्रियां नेपाल आर्मी वाइव्स एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक धर्मादा कार्यक्रम में हिस्सा लेने आई हुई थीं.

सोनाक्षी सिन्हा और मलाइका अरोड़ा खान सोनाक्षी सिन्हा और मलाइका अरोड़ा खान

नेपाल की सेना रविवार को उस समय विवादों में आ गई, जब मीडिया में खबर आई कि शीर्ष सैन्य अधिकारियों ने वर्दी में एयरपोर्ट पर बॉलीवुड अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा और मलाइका अरोड़ा खान की अगवानी की. नेपाल के रक्षा मंत्री ने मामले में सेना से स्पष्टीकरण मांगा है. दोनों अभिनेत्रियां नेपाल आर्मी वाइव्स एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक धर्मादा कार्यक्रम में हिस्सा लेने आई हुई थीं.

बता दें कि यह कार्यक्रम पिछले साल आए विनाशकारी भूकंप के पीड़ितों के कल्याण के लिए आयोजित किया गया था. संस्था की प्रमुख नेपाली सेना के प्रमुख जनरल राजेंद्र छेत्री की पत्नी हैं. 'कांतिपुर डेली' में रविवार को छपी रिपोर्ट के मुताबिक, जनरल समीर शाई सोनाक्षी की अगवानी के लिए शुक्रवार को त्रिभुवन अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर मौजूद थे. जबकि अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों ने मलाइका अरोड़ा की अगवानी की. अखबार ने इसे सेना का मनोबल गिराने वाला और प्रतिष्ठा घटाने वाला कृत्य बताया है.

रक्षा मंत्री ने मांगा स्पष्टीकरण
नेपाल के रक्षा मंत्री भीम रावल ने मामले में नेपाली सेना से स्पष्टीकरण देने को कहा है. जबकि नेपाली सेना ने नेपाली मीडिया में आ रही खबरों का खंडन करते हुए कहा है कि सेना के किसी भी अधिकारी को सोनाक्षी के स्वागत के विमानस्थल पर नहीं भेजा गया था. सेना के मुताबिक, तस्वीरों में दिख रहा नेपाली सेना के अधिकारी की ड्यूटी विमानस्थल पर ही थी और कार्यक्रम सेना के द्वारा ही आयोजित था, इसलिए सामान्य शिष्टाचार का पालन किया गया है.

पीएमओ में दर्ज हुईं कई शाखाएं
बता दें कि मीडिया रिपोर्ट के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की एक शाखा 'हैलो सरकार' में कई शिकायतें दर्ज कराई गईं. यह शाखा सेना के दुरुपयोग को लेकर लोक शिकायतों को देखती है. 'हैलो सरकार' में एक अधीनस्थ सचिव प्रधिन्ना उपाध्याय ने मीडिया से कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय ने रक्षा मंत्रालय से स्पष्टीकरण मांगा है. रक्षा सचिव महेश दहाल ने कहा कि इस घटना की जांच करवाई जाएगी.

नेपाली फिल्मस्टार्स ने जताई नाराजगी
नेपाली फिल्मोद्योग के सुपरस्टार राजेश हमाल ने कहा कि वह इस घटना से स्तब्ध हैं. हमाल ने अपने फेसबुक पेज पर एक पोस्ट में लिखा, 'नेपाली सेना राष्ट्र का गौरव है. लेकिन जब मैंने आज की खबर पढ़ी तो एक नागरिक के नाते मेरा गौरव टूट गया. इस देश के एक विनम्र कलाकार के नाते मैं अपमानित महसूस कर रहा हूं. यदि उन्हें विदेशी कलाकारों की अगवानी करनी ही थी, तो उन्हें सादी वर्दी में ऐसा करना चाहिए था.'

गौरतलब है कि सोनाक्षी सिन्हा शुक्रवार दोपहर काठमांडू पहुंची थीं. उन्होंने शनिवार को तुंडीखेल में संपन्न हुए आमरापंक्षी नामक एक कार्यक्रम में प्रस्तुति दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें