scorecardresearch
 

मंकीपॉक्स ने इस देश में बढ़ाई टेंशन, पहली बार बच्चे भी आए चपेट में

मंकीपॉक्स अब चिंता का सबब बनता जा रहा है. अमेरिका में अभी तक वयस्क ही इस बीमारी की चपेट में आ रहे थे, लेकिन अब बच्चों में भी मंकीपॉक्स के लक्षण मिले हैं. हालांकि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि बच्चों का इलाज किया जा रहा है. आशंका है कि बच्चों में संक्रमण किसी संक्रमित के संपर्क में आने की वजह से हुआ है.

X
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अमेरिका में संक्रमितों में सबसे ज्यादा पुरुष
  • बच्चों का इलाज किया जा रहा है

देश-विदेश में मंकीपॉक्स तेजी से फैला रहा है. अब इस संक्रमण की चपेट में वयस्क ही नहीं, बच्चे भी आ रहे हैं. अमेरिका में पहली बार बच्चों में मंकीपॉक्स के संक्रमण पाए गए हैं. अमेरिका के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कैलिफोर्निया में एक बच्चे और एक नवजात शिशु में मंकीपॉक्स के लक्षण मिले हैं.

अमेरिका के स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि देश में पहली बार बच्चों में मंकीपॉक्स का वायरस मिला है. इससे पहले वयस्कों में ही मंकीपॉक्स का लक्षण मिला था. वहीं CDC ने कहा कि दो मामले मिले हैं, जो कि एक-दूसरे से कनेक्टेडट नहीं है. दोनों बच्चे फिलहाल ठीक है, उनका इलाज किया जा रहा है.

एजेंसी के मुताबिक CDC ने कहा कि मंकीपॉक्स एक-दूसके के संपर्क में आने से फैल रहा है. इस साल अब तक 60 से अधिक देशों में मंकीपॉक्स के 14,000 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और अफ्रीका में 5 मौतें हो चुकी हैं.

सीडीसी के डॉ. जेनिफर मैकक्विस्टन ने कहा कि यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि मंकीपॉक्स अब बच्चों को भी शिकार बना रहा है. अभी तक कहा जा रहा था कि मंकीपॉक्स के प्रसार में यौन संबंधों बड़ी वजह थी, लेकिन अब यह तेजी से बच्चों में भी फैलने लगा है. उन्होंने बताया कि अमेरिका में अभी तक 2,891 मंकीपॉक्स के मरीज सामने आए हैं, इसमें से 99% पुरुषों में मंकीपॉक्स संक्रमण मिला है. जबकि कुछ महिलाएं और कुछ ट्रांसजेंडर भी शामिल हैं.

व्हाइट हाउस के कोविड कॉर्डिनेटर डॉ. आशीष झा ने कहा कि सरकार ने मंकीपॉक्स वैक्सीन की 300,000 वैक्सीन वितरित की गई हैं. जबकि डेनमार्क से 786,000 वैक्सीन का शिपमेंट लाने का काम किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क शहर में आधी से अधिक योग्य आबादी और वाशिंगटन डीसी में 70% से अधिक योग्य आबादी को वैक्सीन की पहली डोज लगाने के लिए पर्याप्त खुराक हैं.

ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें