scorecardresearch
 

धमाके से दहल उठी लेबनान की राजधानी बेरूत, 78 की मौत, एमरजेंसी लागू

बेरूत में मंगलवार को हुए धमाके में 78 लोगों की मौत हो गई. वहीं, लगभग चार हजार लोगों के घायल होने की भी खबर है. धमाका कैसे हुआ, इस बारे में जानकारी का इंतजार किया जा रहा है.

बेरूत में हुए धमाके में 78 लोगों की मौत (फोटो- ANI) बेरूत में हुए धमाके में 78 लोगों की मौत (फोटो- ANI)

  • लेबनान की राजधानी बेरूत में धमाका
  • राष्ट्रपति ने बेरूत में लागू की एमरजेंसी

लेबनान की राजधानी बेरूत में मंगलवार को हुए धमाके में 78 लोगों की मौत हो गई. इस घटना में लगभग चार हजार लोगों के घायल होने की भी खबर है. रिपोर्ट्स के मुताबिक शहर की कई इमारतों को नुकसान पहुंचा है. लेबनान के राष्ट्रपति ने बेरूत में दो हफ्ते के लिए एमरजेंसी लागू कर दिया है. राष्ट्रपति ने कैबिनेट की आपात बैठक भी बुलाई है.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक स्वास्थ्य मंत्री ने 78 लोगों की मौत और करीब चार हजार लोगों के घायल होने की जानकारी दी है. समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक लेबनान के प्रधानमंत्री हसन दिआब ने कहा है कि बंदरगाह में 2750 टन अमोनियम नाइट्रेट का विस्फोट हुआ.

लेबनान की न्यूज एजेंसी एनएनए और सुरक्षा सूत्रों ने कहा कि यह विस्फोट शहर के बंदरगाह क्षेत्र में हुआ. वहीं एक सूत्र ने कहा कि इस क्षेत्र में केमिकल रखे गए थे. सोशल मीडिया पर लोगों द्वारा साझा किए गए फुटेज में बंदरगाह से धुआं निकलता दिख रहा, जिसके बाद एक बड़ा विस्फोट हुआ.

ये भी पढ़ें- राम मंदिर आंदोलन के वो बड़े चेहरे जो नहीं बन पाएंगे भूमिपूजन के पलों के गवाह

समाचार एजेंसी एएफपी ने लेबनानी स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से 73 लोगों की मौत और 3700 से अधिक लोगों के घायल होने की जानकारी दी है. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि घायलों की संख्या बहुत अधिक है. यूएन के प्रवक्ता फरहान हक ने कहा कि धमाका किस वजह से हुआ ये स्पष्ट नहीं है. यूएन के किसी भी कर्मचारी के घायल होने की जानकारी नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारे पास इस बारे में जानकारी नहीं है कि क्या हुआ है और इसके कारण क्या हैं.

ये भी पढ़ें- पाकिस्तान के नए नक्शे पर बोला भारत- ऐसे दावे हास्यास्पद, इनकी कोई कानूनी वैधता नहीं

धमाके का असर ये हुआ कि पूरे शहर में कांच टूटा पड़ा है और लोग बदहवास घूम रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक जिस पोर्ट के पास एक धमाका हुआ, वहां वेयरहाउस भी हैं. समाचार एजेंसी रायटर्स के मुताबिक इस धमाके से लेबनान के प्रधानमंत्री कार्यालय को भी क्षति पहुंची है.

संयुक्त राष्ट्र शांति सेना का जहाज भी क्षतिग्रस्त

बेरूत में हुए धमाके से वहां तैनात संयुक्त राष्ट्र शांति सेना की मैरीटाइम टास्क फोर्स का एक जहाज भी क्षतिग्रस्त हो गया. कई शांति सैनिकों के भी घायल होने की खबर है, जिनमें से कई गंभीर रूप से घायल बताए जाते हैं. घायलों को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. शांति मिशन के हेड और फोर्स कमांडर मेजर जनरल डेल कॉल ने कहा कि हम इस कठिन समय में लेबनान के लोगों और सरकार के साथ है. हम हर तरह की सहायता करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं.

अमेरिका, फ्रांस ने जताई एकजुटता

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने ट्वीट कर लेबनान के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए मदद की पेशकश की है. ब्रिटेन और ईरान के नेताओं ने भी लेबनान के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए ट्वीट किया है. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने बेरूत धमाकों के हमला होने की आशंका जताई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें