scorecardresearch
 

दक्षिण पश्चिम चीन में भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 6.6 मैग्नीट्यूड दर्ज की गई तीव्रता

चीन दक्षिण पश्चिमी हिस्से में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.6 मैग्नीट्यूड दर्ज की गई है. इस इलाके में सोमवार को अचानक आए भूकंप ने लोगों को डरा दिया और कई नागरिक अपने घरों से निकलकर सड़कों पर आ गए. फिलहाल अब तक भूकंप से कोई बडे़ नुकसान की बात सामने नहीं आई है.

X
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

चीन दक्षिण पश्चिमी हिस्से में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.6 मैग्नीट्यूड दर्ज की गई है. इस इलाके में सोमवार को अचानक आए भूकंप ने लोगों को डरा दिया और कई नागरिक अपने घरों से निकलकर सड़कों पर आ गए. फिलहाल अब तक भूकंप से कोई बडे़ नुकसान की बात सामने नहीं आई है.

इससे पहले 26 जून 2020 को चीन के झिंजियांग में 6.4 मैग्नीट्यूड तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया था. भूकंप के झटके झिंजियांग इलाके के यूतियान क्षेत्र में दर्ज किए गए थे. यूतियान क्षेत्र नक्शे के हिसाब से भारत से कुछ ही दूरी पर स्थित है. हालांकि, भारत के इलाकों में भूकंप के इन झटकों का कोई असर नहीं हुआ था.

भारत में भी इस साल कई शहरों में भूकंप के झटके आए. 25 अगस्त को आधी रात के बाद जब लोग गहरी नींद में थे, सबसे पहले महाराष्ट्र के कोल्हापुर में धरती कांपी. नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक महाराष्ट्र के कोल्हापुर में रात के 2.21 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.9 मापी गई. भूकंप का केंद्र 10 किलोमीटर गहराई में था.

करीब दो सप्ताह पहले उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में देर रात भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 5.2 मैग्नीट्यूड दर्ज की गई थी. भूकंप के झटके शुक्रवार देर रात 1:12 बजे महसूस किए गए थे. भूकंप का केंद्र यूपी के लखनऊ से 139 किमी उत्तर-पूर्व में बहराइच के आसपास था. इसका केंद्र 82 किलोमीटर गहराई में था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें