scorecardresearch
 

अमेरिका: जो बाइडेन-कमला हैरिस ने दी नवरात्रि की शुभकामनाएं, समझें क्या हैं मायने?

डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन और भारतीय मूल की उनकी रनिंग मेट यानी कि उप राष्ट्रपति पद की दावेदार कमला हैरिस ने शनिवार को नवरात्रि की शुरुआत के मौके पर हिंदुओं को बधाई दी.

जो बाइडेन और कमला हैरिस ने दी नवरात्रि की शुभकामनाएं (फाइल फोटो) जो बाइडेन और कमला हैरिस ने दी नवरात्रि की शुभकामनाएं (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जो बाइडेन ने दी नवरात्रि की शुभकामनाएं
  • राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रतिद्वंद्वी हैं बाइडेन
  • तीन नवंबर को होगा राष्ट्रपति चुनाव

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में भारतीय समुदाय के लोगों की भूमिका बेहद महत्वपूर्ण है. इसे इस बात से भी समझा जा सकता है कि डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन दोनों ही पार्टियां अपने-अपने तरीके से भारतीय समुदाय के लोगों को लुभाने की कोशिश में लगे हैं. डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन और भारतीय मूल की उनकी रनिंग मेट यानी उप राष्ट्रपति पद की दावेदार कमला हैरिस ने शनिवार को नवरात्रि की शुरुआत के मौके पर हिंदुओं को बधाई दी और एक बार फिर बुराई पर अच्छाई की जीत की कामना की.

बाइडेन ने शनिवार को ट्वीट किया, 'हिंदू पर्व नवरात्रि की शुरुआत के मौके पर मेरी और जिल की ओर से अमेरिका और दुनिया भर में त्योहार मनाने वाले सभी लोगों को शुभकामनाएं. अच्छाई की एक बार फिर बुराई पर विजय हो और सभी को एक नई शुरुआत का मौका मिले.' 

बाइडेन (77) तीन नवंबर को होने वाले चुनावों में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रतिद्वंद्वी हैं. ओबामा के प्रशासन में संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति के रूप में बाइडेन व्हाइट हाउस और अपने अधिकारिक आवास पर दिवाली समारोहों में काफी सक्रिय रहते थे.

वहीं सीनेटर हैरिस ने भी ट्वीट कर नवरात्रि की शुभकामनाएं दीं. उन्होंने ट्वीट किया,“डगलस एम्हॉफ और मेरी तरफ से हमारे हिंदू अमेरिकी दोस्तों और उनके परिवारों को नवरात्रि की बहुत सारी शुभकामनाएं! ईश्वर करे कि यह अवकाश हम सभी को अपने समुदायों का विकास कर नए अमेरिका के निर्माण की प्रेरणा दे.

पहले भी भारत-अमेरिका संबंध मजबूत बनाने की कर चुके हैं बात 

जो बाइडेन पहले भी प्रचार अभियान के दौरान कह चुके हैं कि उनका प्रशासन भारत-अमेरिका संबंधों को लगातार मजबूत करने को 'उच्च प्राथमिकता' देगा. भारतीय-अमेरिकी नागरिकों से संबंधित एक महत्वपूर्ण नीतिगत दस्तावेज में बाइडेन के प्रचार अभियान ने कहा कि बाइडेन का मानना है कि दक्षिण एशिया में, एक देश की सीमा से दूसरे देश में या किसी अन्य रूप में आतंकवाद को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. 

देखें: आजतक LIVE TV

प्रचार अभियान ने कहा कि बाइडेन प्रशासन नियम आधारित और स्थिर हिंद-प्रशांत क्षेत्र का समर्थन जारी रखने पर काम करेगा, जिसमें चीन सहित कोई भी देश अपने पड़ोसी देश को धमकी नहीं दे सकेगा.

बाइडेन के प्रचार अभियान ने कहा, 'बाइडेन लंबे समय से चली आ रही अपनी इस मान्यता को पूरा करेंगे कि भारत और अमेरिका स्वाभाविक साझेदार हैं. बाइडेन प्रशासन अमेरिका-भारत संबंधों को मजबूत करना जारी रखने को उच्च प्राथमिकता देगा.' यह बयान भारत के 74 वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आया था. 

जाहिर है अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों की आबादी साल 2010 से 2017 के बीच 7 वर्षों में 38 प्रतिशत तक बढ़ गई है. ऐसे में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार की जीत में इनकी भूमिका काफी महत्वपूर्ण हो सकती है.

नवंबर में होगा चुनाव  

बता दें, अमेरिका में नवंबर में होने वाले चुनाव के लिए रिपब्लिकन पार्टी ने डोनाल्ड ट्रंप को दोबारा राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार घोषित किया है, जबकि माइक पेंस को उपराष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार घोषित किया गया है.

वहीं डेमोक्रेटिक पार्टी की तरफ से राष्ट्रपति पद के लिए जो बिडेन और उपराष्ट्रपति पद के लिए कमला हैरिस रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवारों को चुनौती देने के लिए मैदान में हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए 3 नवंबर को चुनाव होने हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें