scorecardresearch
 

ऑस्ट्रेलिया में चुनाव की दौड़ में शामिल भारतीय, कई पार्टियों ने दिया टिकट

अगली बार जब ऑस्ट्रेलिया की संसद नए सिरे से सजेगी, तो हो सकता है कि उसमें कोई भारतीय भी शामिल हो. ऑस्ट्रेलिया की आगामी चुनावी दौड़ में भारतीय मूल के कई प्रत्याशी शामिल हैं. इन चुनावों में 50 से ज्यादा राजनीतिक दल अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, जिनमें से कई ने भारतीय मूल के लोगों को टिकट दिया है.

X
ऑस्ट्रेलियाई संसद ऑस्ट्रेलियाई संसद

अगली बार जब ऑस्ट्रेलिया की संसद नए सिरे से सजेगी, तो हो सकता है कि उसमें कोई भारतीय भी शामिल हो. ऑस्ट्रेलिया की आगामी चुनावी दौड़ में भारतीय मूल के कई प्रत्याशी शामिल हैं. इन चुनावों में 50 से ज्यादा राजनीतिक दल अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, जिनमें से कई ने भारतीय मूल के लोगों को टिकट दिया है.

मनोज कुमार का नाम कल रात विक्टोरिया की मेन्जिस सीट से लेबर प्रत्याशी के तौर पर घोषित किया गया. मनोज पूर्व आव्रजन मंत्री केविन एंड्रूज को टक्कर देंगे. केविन 2007 में भारतीय डॉक्टर मोहम्मद हनीफ का वीजा रद्द करने के मामले में विवादों में घिर गए थे.

ऑस्ट्रेलिया में बसे लोगों में भारतीय नंबर-1

विक्टोरिया की स्कूलिन और विल्स सीटों से लिबरल पार्टी की ओर से भारतीय मूल के प्रत्याशी जग चुगा और शिल्पा हेगड़े चुनाव लड़ रहे हैं. इसके अलावा क्लाइव पाल्मर की अगुआई वाली पाल्मर यूनाइटेड पार्टी ने भी भारतीय मूल के कई प्रत्याशी मैदान में उतारे हैं. पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में पीयूपी की ओर से भारतीय मूल के विशाल शर्मा और विमल शर्मा मैदान में हैं. विक्टोरिया की इज़ाक सीट से अवतार गिल प्रत्याशी हैं.

विकीलीक्स पार्टी के दो प्रत्याशी भारतीय
एक अन्य पार्टी ‘21स्ट सेंचुरी ऑस्ट्रेलिया’ ने विक्टोरिया की बैटमैन सीट का प्रतिनिधित्व करने के लिए बिल गुप्ता को उतारा है. पिछले हफ्ते जूलियन असांजे ने अपनी विकीलीक्स पार्टी के प्रत्याशियों का ऐलान किया था. विकीलीक्स पार्टी के सात प्रत्याशियों में से दो भारतीय मूल के हैं. विकीलीक्स की ओर से विक्टोरिया से बिनॉय कैंपमार्क और और पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया से सुरेश राजन चुनाव लड़ेंगे.

ऑस्ट्रेलिया में 4.5 लाख भारतीय
ऑस्ट्रेलिया इंडिया इंस्टिट्यूट के निदेशक अमिताभ मट्टू ने कहा, 'आगामी चुनावों में भारतीयों का प्रत्याशी के रूप में मैदान में होना अच्छा संकेत है और इससे पता चलता है कि उनका सशक्तिकरण हो रहा है.' हालांकि, ऑस्ट्रेलियाई संसद के लिए अब तक कोई भारतीय निर्वाचित नहीं हो पाया है. ऑस्ट्रेलियाई-भारतीय समुदाय सबसे तेजी से बढ़ने वाला समुदाय है. ऑस्ट्रेलिया में लगभग 4.5 लाख भारतीय मूल के लोग हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें