scorecardresearch
 

ब्रिटेनः स्मेथविक में दुर्गा मंदिर के बाहर भारी हंगामा, प्रदर्शनकारियों ने फेंकीं बोतलें

इंग्लैंड के स्मेथविक में मंगलवार को दुर्गा मंदिर के सामने भारी विरोध प्रदर्शन हुआ. दरअसल, मंदिर में एक कार्यक्रम का आयोजन होना था. लेकिन प्रदर्शनकारी इसमें शामिल होने वाले वक्ता का विरोध कर रहे थे. इस दौरान कुछ लोगों ने बोतल भी फेंकी. हालांकि पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर किया. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में हैं.

X
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

इंग्लैंड के स्मेथविक में मंगलवार को स्पॉन लेन पर स्थित मंदिर के बाहर भारी हंगामा हुआ. जानकारी के मुताबिक मंदिर के एक संप्रदाय के करीब 200 लोग एकत्र हो गए. बताया जा रहा है कि इस दौरान बोतल भी फेंकी गईं. हालांकि पुलिस ने तुरंत स्थिति को नियंत्रित कर लिया. लोगों को वहां से तितर-बितर किया जा रहा है.

स्थानीय मीडिया के मुताबिक सोशल मीडिया पर एक जानकारी शेयर की गई थी, इसमें कहा गया था कि स्पॉन लेन पर दुर्गा भवन मंदिर के बाहर प्रदर्शन के लिए एकत्र होना है. हालांकि शांतिपूर्व विरोध का आह्वान किया गया था. इसके बाद वहां सैकड़ों की संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग एकत्र हो गए. हंगामे की स्थिति को देखते हुए पुलिस को सूचना दी गई. मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात है. 

स्थानीय मीडिया बर्मिंघम वर्ल्ड के मुताबिक प्रदर्शन के दौरान हुई अशांति के बाद हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोगों ने इसकी निंदा की है. साथ ही कहा कि इस तरह की घटना नहीं होनी चाहिए. वेस्ट मिडलैंड्स में हिंदू और मुस्लिम समुदाय के लोगों ने विरोध के खिलाफ आवाज उठाई. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि सद्भाव बना रहे.

वहीं मंदिर के पुजारी की ओर से कहा गया है कि हम अच्छे लोग हैं. झूठे आरोप लगाए गए हैं. हमारे मंदिर में सभी समुदायों के लोग आते हैं. यहां हालात बिगाड़ने के लिए साजिश की जा रही है. लेकिन हमारी ओर से कोई भी समस्या नहीं है. उधर, इमाम समूह के अध्यक्ष और सैंडवेल में बहुधर्म समूह के अध्यक्ष रागीह मुफ़्लिही ने कहा कि सभी धर्म के नेता किसी भी अप्रिय स्थिति को नहीं फैलाने देंगे. 

स्काई न्यूज के मुताबिक मंदिर के बाहर करीब 200 लोग एकत्र हो गए थे. प्रदर्शनकारियों में से किसी ने बोतलें फेंक दीं. इससे हालात काफी संवेदनशील हो गए. हालांकि पुलिस ने हालात बिगड़ने नहीं दिए. अब स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है.

क्या है मामला


मंदिर के बाहर एकत्र हुए प्रदर्शनकारी एक प्रवक्ता (स्पीकर) के मंदिर में आयोजित होने वाले कार्यक्रम का विरोध कर रहे थे. हालांकि ये कार्यक्रम बाद में रद्द कर दिया था. बताया जा रहा है जिस स्पीकर को कार्यक्रम में भाषण देना था, उन पर अन्य समुदायों के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करने का आरोप है. इस वजह से वह प्रदर्शनकारियों के निशाने पर थे.

क्या कहा स्थानीय पुलिस ने 


हमें जानकारी मिली थी कि वेस्ट ब्रोमविच में विरोध प्रदर्शन हो रहा है. इसकी वजह स्पॉन लेन में मंदिर में एक वक्ता का आयोजित होने वाला कार्यक्रम था. हालांकि हमें बताया गया कि बाद में आयोजन रद्द कर दिया गया है. इसके साथ ही जिस व्यक्ति का विरोध किया जा रहा था वह यूके में नहीं रह रहा है. एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा कि शांतिपूर्ण विरोध को सुविधाजनक बनाने और विरोध के अधिकार को कायम रखने का हमारा लंबा इतिहास है. लेकिन आमजन को इस तरह के प्रदर्शन से असुविधा न हो, इसका भी ध्यान रखना है. 

ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें