scorecardresearch
 

यूपी में निकाय चुनाव से पहले खुलेगा 'विकास का पिटारा', 5 दिसंबर को पेश होगा अनुपूरक बजट

Yogi Government Supplementary Budeget: योगी सरकार 2.0 का पहला बजट 26 मई 2022 को पेश किया गया था. ये बजट 6.15 लाख करोड़ रुपए का था. दिसंबर के अंत में यूपी में शहरी नगर निकाय के चुनाव होने हैं, इसको देखते हुए अनुपूरक बजट में यूपी सरकार कई अहम घोषणाएं कर सकती है.

X
UP के सीएम योगी आदित्यनाथ.
UP के सीएम योगी आदित्यनाथ.

Yogi Government Supplementary Budeget: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार निकाय चुनाव से पहले विकास कार्यों की योजनाओं का पिटारा खोलने जा रही है. योगी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल का पहला अनुपूरक बजट 5 दिसंबर को पेश करेगी. विधानसभा का सत्र भी इसी दिन शुरू होगा. पहले दिन पूरक बजट पेश किया जाएगा. अगले दिन यानी 6 दिसंबर को अनुपूरक बजट को पारित कराया जाएगा. इसके साथ ही दो दिन के विधानसभा सत्र का समापन हो जाएगा. माना जा रहा है कि इस पूरक बजट में निकाय चुनाव की झलक देखने को मिलेगी.

बता दें कि योगी सरकार 2.0 का पहला बजट 26 मई 2022 को पेश किया गया था. ये बजट 6.15 लाख करोड़ रुपए का था. दिसंबर के अंत में यूपी में शहरी नगर निकाय के चुनाव होने हैं, इसको देखते हुए अनुपूरक बजट में यूपी सरकार कई अहम घोषणाएं कर सकती है.

योगी 2.0 के पहले अनुपूरक बजट में फरवरी 2023 में होने वाले Global Investors Summit को लेकर भी बजट का प्रावधान होगा. माना जा रहा है कि 5-7 दिसंबर को यूपी विधानसभा के सत्र के समाप्त होने के बाद नगर निकाय चुनाव के लिए अधिसूचना जारी हो सकती है.

क्यों लाया जाता है अनुपूरक बजट? 

सरकार हर साल अपना बजट पेश करती है. लेकिन अगर बीच में ही सरकार को फंड की कमी पड़ने लगती है तो अनुपूरक बजट लाया जाता है. आम बजट की तरह ही अनुपूरक बजट को भी सदन में पेश कराना होता है. उत्तर प्रदेश में अगले कुछ महीने के अंदर नगर निकाय चुनाव प्रस्तावित हैं. ऐसे में योजनाओं को लागू करने और प्रोजेक्ट्स के कामों में तेजी लाने के लिए सरकार को फंड की जरूरत है, इसलिए ये बजट लाया गया है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें