scorecardresearch
 

पत्नी के पास आने की इजाजत नहीं! मजबूरी में 7000 KM दूर रह रहा पति

वीजा नहीं मिलने की वजह से 5 साल से पति-पत्नी एक-दूसरे से अलग रह रहे हैं. दोनों आखिरी बार 2017 में मिले थे. कपल कानूनी सलाह के लिए वकीलों पर भी लाखों रुपए खर्च कर चुका है. उन्होंने सरकार के फैसले के खिलाफ अपील भी की थी, लेकिन उनकी अपील खारिज कर दी गई.

X
सराह और ओलिमी ने 2016 में शादी की थी. (Credit: Sarah Sholagbade )
सराह और ओलिमी ने 2016 में शादी की थी. (Credit: Sarah Sholagbade )

शादी होने के बावजूद पति-पत्नी, एक-दूसरे से 7000 किलोमीटर दूर रह रहे हैं. ऑनलाइन मुलाकात के बाद, कपल ने 6 साल पहले शादी की थी. 2017 में दोनों एक-दूसरे से आखिरी बार मिले थे.

पिछले 5 साल से दोनों की मुलाकात नहीं हुई है. इसकी वजह है- वीजा को लेकर फंसा पेंच. दरअसल, पति को पत्‍नी के देश ब्रिटेन में एंट्री करने की इजाजत नहीं है. उनका वीजा कई बार खारिज हो चुका है.

सराह और ओलिमी शोलागबेड, 35 साल के हैं. कपल की अप्रैल 2015 में ऑनलाइन मुलाकात हुई थी. पहली बार दोनों में आमने-सामने मुलाकात नाइजीरिया में अप्रैल 2016 में हुई, तब सराह ओलिमी से मिलने ब्रिटेन से नाइजीरिया गई थीं. इसके तीन सप्‍ताह बाद ही कपल ने एक दूसरे से शादी कर ली. 

सराह इसके बाद कई बार ओलिमी से मिलने नाइजीरिया जाती रहीं. इसी दौरान ओलिमी ने ब्रिटेन के वीजा के लिए ट्राय किया, ताकि वह सराह के साथ रह सकें. लेकिन, उनका वीजा एप्‍लीकेशन ब्‍लॉक कर दिया गया. मार्च 2017 के बाद से शादीशुदा कपल ने एक-दूसरे को नहीं देखा है.

सराह और ओलिमी कानूनी सलाह पर भी साढ़े चार लाख रुपए खर्च कर चुके हैं, ताकि ब्रिटेन की सरकार के फैसले के खिलाफ अपील कर सकें. 

फिलहाल, ओलिमी, सराह से करीब 7000 किलोमीटर दूर लागोस (नाइजीरिया) में रह रहे हैं. सराह विगन (ब्रिटेन) में रहती हैं.

सराह ने पहली बार ओलिमी के लिए 2016 में ब्रिटेन के वीजा अप्‍लाई किया था, लेकिन इसे यह कहकर खारिज कर दिया गया कि सराह के पास उतने पैसे नहीं हैं जिससे वह ओलिमी को सपोर्ट कर सकें. 

इसके बाद 2017 में उन्‍होंने फिर से वीजा के लिए अप्‍लाई किया. सराह ने यह भी दावा किया कि दूसरी बार एप्‍लीकेशन में मौजूद सवाल 'क्‍या वीजा के लिए पहले भी आवेदन किया गया है' पर 'नहीं' टिक कर दिया था. इस कारण उनके आवेदन को अस्‍वीकार कर दिया गया.

सराह ने कहा कि इस फैसले के खिलाफ अपील भी की. लेकिन, उनकी अपील खारिज कर दी गई. 

'जैसा सोचा था वैसा कुछ नहीं हुआ'
सराह ने बताया कि अब हमें यह समझ नहीं आता कि यहां से कहां जाना है? हमारे लिए चीजें आसान नहीं हैं. हम दोनों एक दूसरे से फेसबुक और व्‍हाट्सऐप से कनेक्‍ट रहते हैं. लेकिन लंबे अर्से से हमलोग मुलाकात नहीं कर पाए हैं क्‍योंकि हमें वकीलों को भी पैसे देने थे.

फेसबुक वीडियो पर कमेंट, फिर शुरू हुई थी चैटिंग
आखिर कपल की मुलाकात कैसे हुई? सराह ने इसके पीछे की कहानी भी बताई. दरअसल, सराह ने फेसबुक पर एक वीडियो पोस्‍ट किया था. यह वीडियो नस्‍लभेद पर आधारित था. इस पर ओलिमी ने कमेंट किया, इसके बाद ओलिमी ने उन्‍हें मैसेज किया. फिर दोनों ही लोग अप्रैल 2015 से बात करने लगे. ओलिमी ने सराह के साथ रहने के लिए अपनी एक्‍स-गर्लफ्रेंड को छोड़ दिया था.

शादी की बात परिवार से छिपाई
एक साल तक दोनों ने एक दूसरे को फोन पर बातचीत कर जानने की कोशिश की. इसके बाद दोनों की दोस्‍ती रोमांस में बदल गई. करीब एक साल बाद सराह नाइजीरिया गईं. यहां कुछ सप्‍ताह एक-दूसरे के साथ बिताने के बाद सराह ने ओलिमी के परिवार और उनके दोस्‍तों की मौजूदगी में शादी कर ली.

हालांकि, सराह ने अपने परिवार को इस बारे में जानकारी नहीं दी थी. जैसे ही वह ब्रिटेन वापस आईं, इसके बाद उन्‍होंने यह बात साझा की. शादी की बात सुनकर परिजन चौंके जरूर, लेकिन उन्‍होंने दोनों के रिश्‍ते को कुबूल कर लिया.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें