scorecardresearch
 

धोनी से मिलने की हसरत, दूसरी बार 1436 क‍िलोमीटर पैदल चलकर ह‍िसार से रांची जाएगा ये युवक

हिसार में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कैप्टन एमएस धोनी का सबसे बड़ा फैन अजय ग‍िल, ज‍िसने हर‍ियाणा से झारखंड के बीच 1436 किलोमीटर का सफर पैदल तय क‍िया था और धोनी से म‍िलने उनके फार्महाउस पर पहुंच गए थे. अब फ‍िर से वह इस सफर पर न‍िकलने वाले हैं.

क्र‍िकेटर एमएस धोनी का फैन अजय ग‍िल. क्र‍िकेटर एमएस धोनी का फैन अजय ग‍िल.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एमएस धोनी से म‍िलने 1436 क‍िमी पैदल चला था अजय ग‍िल
  • अब दोबारा मिलने के लिए 1 नवंबर से पैदल यात्रा शुरू करने वाला है धोनी का फैन
  • अजय गिल ने अपने हेयर स्टाइल पर लिखवा रखा है धोनी का नाम

आज लोग किसी न किसी के फैन हैं. हरियाणा के छोटे से गांव खेडी जालब के रहने वाले अजय गिल माही भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कैप्टन एमएस धोनी के जबरदस्त फैन हैं. इस युवक में हिम्मत, जोश, जुनून और जज्बात हैं. इस युवक की हिम्मत ही थी क‍ि अकेला यह युवक 1436 किलोमीटर हिसार से पैदल चलकर रांची में धोनी के फार्महाउस पर जाकर आया था.

अजय गिल ने अब दूसरी बार पैदल जाने की तैयारी कर ली है. वह 1 नवंबर से पैदल यात्रा के लिए झारखंड जाएंगे और एमएस धोनी से मिलकर उनका आशीर्वाद लेकर लौटेंगे. अजय गिल ने अपने हेयर स्टाइल व टी शर्ट पर धोनी का नाम छपवा रखा है. गांव खेडी जालब के रहने वाले अजय गिल ने खरक पूनिया से 12वीं की परीक्षा पास की थी. 

धोनी के फैन अजय ग‍िल.
धोनी के फैन अजय ग‍िल.

अजय के पिता सैलून का काम करते हैं. अजय का पारिवारिक स्तर कमजोर हालत में है. अजय माही चार साल था जब से उसे क्रिकेट का शौक था.  

अजय ने बताया कि 23 दिसंबर 2004 को पाकिस्तान व भारत का मैच हुआ था जिसमें धोनी ने पहला शतक बनाते हुए 148 रन बनाए थे. इस दौरान धोनी ने ताबड़तोड़ चौके और छक्के लगाए थे. इस मैच को देखकर वह धोनी का फैन बना था. धोनी की कप्तानी के दौरान भारत ने दो वर्ल्ड कप 2007 और 2011 जीते थे.अजय का कहना है क‍ि धोनी ऐसे क्रिकेटर हैं जिसके हाथ चीते की तरह तेज चलते हैं, उनकी खासियत है क‍ि जब मैच जीतना होता है कि वे लास्ट में छक्का मार कर टीम को ज‍िताते हैं. 

धोनी के जबरदस्त फैन हैं अजय ग‍िल माही 

अजय ने कहा कि वे एमएस धोनी के अकेले ऐसे फैन हैं, जो अकेले में ही उनका मैच देखना पसंद करते हैं. उसने धोनी से मिलने की ठानी और अकेले ही हाथ में तिरंगा लेकर धोनी से मिलने के लिए पैदल ही झारखंड पहुंच गए. 29 जुलाई से हिसार से यात्रा शुरू की थी और बाद में 14 अगस्त को वह रांची में धोनी के फार्महाउस में पहुंचे थे. 

धोनी के फैन अजय ग‍िल को है क्र‍िकेट का शौक.
धोनी के फैन अजय ग‍िल को है क्र‍िकेट का शौक.

अजय ने बताया कि वह दिन-रात पैदल चलता गया और 1436 किलोमीटर की यात्रा तय करके झारखंड में पहुंचा परंतु वहां एमएस धोनी नहीं मिले परंतु धोनी को चाहने वाले म‍िल गए. युवक अपने हाथ में बैग और तिरंगा झंडा लेकर खेडी जाबल से जींद, गोहाना, सोनीपत, दिल्ली, गाजियाबाद, दादरी, सिकंराबाद, बुलंदशहर, अलीगढ़, एटा, कन्नौज, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी से चलते हुए आगे झारखंड के रांची में रिंग रोड पर धोनी के फार्महाउस पर पहुंचा था. इस दौरान कई लोगों ने इस युवक की हिम्मत को देखते हुए उसे हवाई जहाज से उसके घर में पहुंचाने का काम किया था. 

अजय का कहना है एमएस धोनी मेरे भगवान हैं,  मैं उनके दर्शन करना चाहता हूं और इस बार तो दर्शन करके रहूंगा और इसके लिए 1 नवंबर से पैदल यात्रा के लिए निकल रहा हूं. इसलिए मैंने पूरी तैयारियां कर ली हैं. अजय ने बताया कि वह फिलहाल हिसार में सेंट सोफिया स्पोर्ट्स एकेडमी में क्रिकेट खेल प्रशिक्षण ले रहा है. कैमरी रोड स्थित सोफिया क्रिकेट एकेडमी की डायरेक्टर वर्षा राणा व मैनेजर प्रशांत ने कहा कि अजय गिल होनहार खिलाड़ी हैं. उसमें क्रिकेट  का जूनून है. वह धोनी का विश्व में एक मात्र अकेला ऐसा जबरदस्त फैन है जो इतना पैदल चलकर उनके घर तक गया हो. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें