scorecardresearch
 
ट्रेंडिंग

रातों-रात कैसे डिप्टी CM बन गए अजित पवार? रात 9 बजे ऑफ हो गया था मोबाइल

रातों-रात कैसे डिप्टी CM बन गए अजित पवार? रात 9 बजे ऑफ हो गया था मोबाइल
  • 1/5
महाराष्ट्र में बीजेपी नेता देवेंद्र फडणवीस ने शनिवार सुबह मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. उनके साथ एनसीपी नेता अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली थी. लेकिन अजित पवार के बीजेपी को समर्थन देने को एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने उनका निजी फैसला बताया था. वहीं, शिवसेना के नेता संजय राउत ने कहा था कि बीजेपी के साथ जाने से पहले शुक्रवार रात को शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की बैठक में खुद अजित पवार मौजूद थे. आइए जानते हैं कि अजित पवार के डिप्टी सीएम बनने से पहले वाली रात क्या हुआ था-
रातों-रात कैसे डिप्टी CM बन गए अजित पवार? रात 9 बजे ऑफ हो गया था मोबाइल
  • 2/5
शिवसेना नेता संजय राउत ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था- 'शुक्रवार रात 9 बजे तक ये महाशय (अजित पवार) हमारे साथ बैठे थे. पूरी बातचीत में सक्रिय थे. अचानक से वो गायब हो गए. उनका फोन स्विच ऑफ हो गया. उन्होंने वकीलों से मिलने की बात कही थी.'
रातों-रात कैसे डिप्टी CM बन गए अजित पवार? रात 9 बजे ऑफ हो गया था मोबाइल
  • 3/5
संजय राउत ने कहा था- '(अजित पवार को लेकर) हमें थोड़ा संशय आया था. क्योंकि वे नजरों से नजरें मिलाकर नहीं बोल रहे थे. जो व्यक्ति पाप करने जाता है उसकी नजर जिस प्रकार झुकती है वैसी थी.'
रातों-रात कैसे डिप्टी CM बन गए अजित पवार? रात 9 बजे ऑफ हो गया था मोबाइल
  • 4/5
वहीं, अजित पवार के पार्टी के विधायकों को तोड़ने और बीजेपी के सरकार बनाने को लेकर शरद पवार ने कहा है कि देवेंद्र फडणवीस बहुमत साबित नहीं कर पाएंगे. हम सब एकजुट हैं. अजित पवार को विधायक दल के नेता के पद से भी हटा दिया गया था.
रातों-रात कैसे डिप्टी CM बन गए अजित पवार? रात 9 बजे ऑफ हो गया था मोबाइल
  • 5/5
शरद पवार ने अजित पवार के फैसले को लेकर कहा था कि यह पार्टी की विचारधारा के खिलाफ है. इन विधायकों को दलबदल कानून का पता होना चाहिए.