scorecardresearch
 

किसान ने किया कमाल, कश्मीर-हिमाचल नहीं, पुणे में कर दिखाई सेब की खेती

किसान ने किया कमाल, कश्मीर-हिमाचल नहीं, पुणे में कर दिखाई सेब की खेती

पुणे के संसर गांव में एक फॉर्म में एक परिवार ने मेहनत से सेब उगा दी. सेब का नाम सुनते ही जहन में कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के बागों की तस्वीर आती है. लेकिन खरात परिवार ने अपने फॉर्म में सेब उगा कर सबको हैरान कर दिया है. बारामती जैस गर्म इलाके में सेब की खेती जोखिम भरी थी. लेकिन प्रभाकर ने ये जोखिम लिया और उनकी महीनों की अथक मेहनत आज सेबों में खिल रही है. खरात परिवार दार्जिलिंग से सेब के पौधे लाया था. करीब 19 महीने तक प्रभाकर ने कड़ी मेहनत की. जिसका परिणाम अब देखने को मिल रहा है. जब फल आए तो वो पूरे इलाके में चर्चा का केंद्र बन गए हैं. खेती के दौरान प्रभाकर को एक बात समझ आ गई कि पारंपरिक खेती से बात नहीं बनने वाली. इसलिए वो अपनी जमीन पर कई तरह की फसलें उगाते हैं. देखें वीडियो.

In India, apple fruit farming is done in regions like Jammu-Kashmir and Himachal Pradesh. But a teacher after retirement, who turned as a farmer grows apples in Pune's hot climate. Efforts of farmer make it successful. The farmer brought saplings from Darjeeling, it took 19 months to grows. Farmer gets popular in the area as he successfully cultivated apples on his farm. Watch the video to know more.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें