scorecardresearch
 

खत्म होगी AC की जरूरत? IIT ने तैयार किया गजब का सिस्टम, बिना बिजली के घर होगा ठंडा

Air Conditioner Alternatives: घर हो या फिर कार. इन्हें ठंड़ा रखने के लिए लोग एसी का इस्तेमाल करते हैं. एसी आपके घर को ठंडा तो करता है, लेकिन इसके लिए बिजली और प्राइमरी इन्वेस्टमेंट दोनों की जरूरत होती है. IIT गुवाहाटी ने इसका सस्ता रिप्लेसमेंट खोज लिया है.

X
Air Conditioner का बेस्ट अल्टरनेटिव (प्रतीकात्मक तस्वीर) Air Conditioner का बेस्ट अल्टरनेटिव (प्रतीकात्मक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिना बिजली के काम करता है रेडिएटिव कूलिंग सिस्टम
  • पहले मौजूद सिस्टम दिन में ठीक से काम नहीं करता था
  • इसे पेंट के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है

गर्मी से राहत के लिए लोग AC यानी एयर कंडीशनर का इस्तेमाल करते हैं. इनका इस्तेमाल दो तरह से जेब पर भारी पड़ता है. एक तो इनकी कीमत और दूसरा है इन्हें यूज करने का खर्च. IIT गुवाहाटी ने इसका सस्ता ऑप्शन खोज निकाला है. रिसर्चर्स ने एक अफोर्डेबल विकल्प तलाशा है, जो आपकी जेब पर भारी नहीं पड़ेगा.

IIT गुवाहाटी में रिसर्च ने Radiative Cooler कोटिंग मैटेरियल खोजा है, जिसे इस्तेमाल करने में बिजली खर्च नहीं होती है. अधिकारियों की मानें तो यह मैटेरियल एक इलेक्ट्रिसिटी फ्री कूलिंग सिस्टम है.

इन्हें छत पर अप्लाई किया जा सकता है. ये दिन और रात दोनों टाइम पर काम करेगा, जो एयर कंडीशनर का एक सस्ता विकल्प बन सकता है. आईआईटी के सिस्टम को पूरे दिन बिना किसी बिजली के यूज किया जा सकता है.

कैसे काम करता है रेडिएटिव कूलिंग सिस्टम?

IIT गुवाहाटी में रिसर्च स्कॉलर आशीष कुमार चौधरी ने बताया, 'पैसिव रेडिएटिव कूलिंग सिस्टम इन्फ्रारेड रेडिएशन फॉर्म में आसपास की गर्मी को एब्जॉर्ब करके काम करता है. ज्यादातर पैसिव रेडिएटिव कूलर्स केवल रात में काम करते हैं. दिन में काम करने के लिए इन्हें सोलर रेडिएशन को भी रिफ्लेक्ट करना होता है.'

चौधरी के मुताबिक, अभी तक ऐसे कूलिंग सिस्टम दिन में ठीक से काम नहीं कर रहे थे. उन्होंने बताया, 'हमने इस दिक्कत को दूर कर लिया है और एक अफोर्डेबल व बेहतर रेडिएटिव कूलिंग सिस्टम लाए हैं. यह सिस्टम पूरे दिन काम कर सकता है.'

AC का बेस्ट अल्टरनेटिव बन सकता है ये प्रोडक्ट

इस रिसर्च को Journal of Physics D: Applied Physics में पब्लिश किया गया है. IIT गुवाहाटी में असिस्टेंट प्रोफेसर Debabrata Sikdar ने बताया, 'दिन में काम करने वाले पैसिव रेडिएटिव कूलर को डिजाइन करना चुनौतीपूर्ण था. इन रेडिएटिव कूलर्स को इस्तेमाल करने के लिए किसी एक्स्ट्रा एनर्जी की जरूरत नहीं होती है. यह एयर कंडीशनर का बेस्ट विकल्प बन सकते हैं.'

आसान भाषा में समझें तो जहां एयर कंडीशनर किसी कार या कमरे को ठंड़ा करने के लिए उसकी गर्मी को बाहर निकालता है. रेडिएटिव कूलिंग सिस्टम किसी ऑब्जेक्ट की गर्मी को ठंड़ी जगह पर ट्रांसफर कर देता है. टीम की मानें तो ये प्रोडक्ट्स मार्केट में बड़े प्रोटोटाइप डेवलप्ड होने के बाद आएंगे. वह आगे की प्रक्रिया पर काम कर रहे हैं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें