scorecardresearch
 

चोरी हो गया फोन? IMEI नंबर की मदद से ऐसे करें मोबाइल को ट्रैक या ब्लॉक, जानें पूरा प्रोसेस

फोन चोरी होने पर आपकी पर्सनल जानकारी भी लीक हो सकती है. बिना GPS लोकेशन, सिम कार्ड या इंटरनेट एक्सेस के फोन ढूंढना काफी मुश्किल काम है. स्मार्टफोन के साथ IMEI नंबर दिया जाता है. इसकी मदद से पुलिस चोरी हुए फोन का पता लगाने की कोशिश करती है.

X
फोन चोरी होने पर IMEI नंबर से किया जा सकता है ब्लॉक
फोन चोरी होने पर IMEI नंबर से किया जा सकता है ब्लॉक

स्मार्टफोन का यूज काफी ज्यादा बढ़ गया है. इसका इस्तेमाल बातचीत से लेकर वीडियो देखने और गेम खेलने तक में किया जाता है. लेकिन, दिक्कत तब आती है जब फोन चोरी या खो जाता है. ऐसे में आपकी पर्सनल जानकारी भी लीक हो सकती है. बिना GPS लोकेशन, सिम कार्ड या इंटरनेट एक्सेस के फोन ढूंढना काफी मुश्किल काम है. 

लेकिन, इस स्थिति में IMEI नंबर काफी ज्यादा काम आता है. इस वजह से लोगों को IMEI नंबर लिखकर रखने सेफ जगह रखने की सलाह दी जाती है. फोन खोने की स्थिति में आप इसकी मदद से मोबाइल को ट्रैक करने की कोशिश कर सकते हैं. 

क्या है IMEI नंबर?

सभी फोन में 15 डिजिट का यूनिक IMEI या इंटरनेशनल मोबाइल इक्किवपेंट आइडेंटिटी नंबर होता है. इस यूनिक नंबर को किसी फोन के लिए चेंज नहीं किया जा सकता है. आपको इसको फोन के बॉक्स पर चेक कर सकते हैं. इसके अलावा आप फोन की सेटिंग में भी जाकर इसे चेक कर सकते हैं. आप *#06# डायल करके भी IMEI नंबर का पता लगा सकते हैं. 

फोन के चोरी होने की स्थिति में इन चीजों की होगी जरूरत:

  • IMEI नंबर
  • चोरी हुए फोन की FIR कॉपी
  • मोबाइल की दूसरी डिटेल्स जैसे ब्रांड, मॉडल और बिलिंग इनवॉयस

करें ये काम

फोन चोरी होने जाने के बाद सबसे पहले उसके बारे में नजदीकी थाने को सूचित कर दें. इसके बाद CEIR की ऑफिशियल वेबसाइट https://ceir.gov.in/Home/index.jsp# पीसी पर विजिट करें. इस सर्विस को फिलहाल दिल्ली, महाराष्ट्र और कर्नाटक के लिए उपलब्ध करवाया गया है. 

CEIR की ऑफिशियल वेबसाइट पर आपको मोबाइल की सभी डिटेल्स जैसे ब्रांड, मॉडलस लास्ट लोकेशन की जानकारी एंटर करें. यहां पर आपको मोबाइल की बिलिंग इनवॉयस भी देने की जरूरत पड़ सकती है. फिर अल्टरनेटिव नंबर एंटर करें और Get OTP बटन पर क्लिक करें. 

खोए या चोरी हुए फोन की लोकेशन रिक्वेस्ट को पूरा करने के लिए आपको अल्टरनेटिव नंबर पर मिले ओटीपी को एंटर करना होगा. इसके बाद सब्मिट बटन पर क्लिक करें. इसके बाद आपको एक Request ID मिलेगी. इसको संभाल कर रखें. इसका इस्तेमाल IMEI नंबर को अनब्लॉक करने के लिए किया जा सकता है. 

फोन के मिसयूज को रोकने के लिए आप चोरी हुए फोन के बारे में नेटवर्क ऑपरेटर को भी जानकारी दे दें. इसके अलावा IMEI नंबर को भी ब्लॉक करने के लिए रिक्वेस्ट चली जाती है. आप CEIR वेबसाइट की मदद से चोरी हुए फोन के स्टेटस और पुलिस इन्वेस्टिगेशन को चेक कर सकते हैं. खुद से फोन को ट्रैक नहीं किया जा सकता है. आप फोन मिलने के बाद IMEI नंबर को ब्लॉक कर सकते हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें