scorecardresearch
 

Tips: हैंग हो जाए कंप्यूटर तो क्या करें? Shut Down या Restart, अंतर जानकर हैरान हो जाएंगे आप

Tips and Tricks: अगर आपका कंप्यूटर हैंग हो जाए, तो आप कौन-सा ऑप्शन चुनते हैं. आज हम आपको Shut Down और Restart का एक अंतर बता रहे हैं, जो आपको हैरान कर सकता है.

X
Computer Shut Down Computer Shut Down
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Windows में आपको Shut Down और Restart का ऑप्शन मिलता है
  • Shut Down करने पर कंप्यूटर बंद हो जाता है
  • Restart करने पर कंप्यूटर ऑफ होकर ऑन हो जाता है

अगर आप एक ऐसा कंप्यूटर इस्तेमाल करते हैं, जो Microsoft Windows पर काम करता है, तो आपको Shut Down और Restart के बारे में जानकारी होगी. इन दोनों फीचर्स का इस्तेमाल लगभग एक जैसे काम के लिए किया जाता है. आप Shut Down का इस्तेमाल कंप्यूटर को बंद करने के लिए करते हैं. जबकि Restart भी ऐसा ही करता है, लेकिन वह कंप्यूटर को दोबारा स्टार्ट भी करता है. हालांकि, इन दोनों फीचर्स के बीच सिर्फ यही एक अंतर नहीं है. एक्सपर्ट्स की मानें तो इन दोनों के बीच एक बड़ा अंतर है, जो आपके कंप्यूटर पर बहुत असर डालता है. 

Shut Down से क्या होता है? 

Windows के पुराने वर्जन्स में Restart और Shut Down के बीच सिर्फ एक ही अंतर था, जो आप जानते है. यह प्रोग्राम्स को बंद करके मशीन की पावर ऑफ कर देते थे, लेकिन Windows 8 और Windows 10 में चीजें बदली हैं. यह बदलाव फास्ट स्टार्टअप फीचर के कारण हुआ है. इस फीचर को कंप्यूटर बूट होने में लगने वाले समय को कम करने के लिए जोड़ा गया था. 

Richmond Community स्कूल के चीफ ऑपरेशन ऑफिसर Rob Tidrow के मुताबिक, 'डिफॉल्ट रूप से Windows 10, यूजर के Shut Down क्लिक करने पर Fast Startup ऑप्शन को इनेबल करता है.' इस ऑप्शन की मदद से Windows 10 अगली बार कंप्यूटर ऑन होने पर उसे तेजी से स्टार्ट कर पाता है. 

दरअसल, Windows 10 में Shut Down का इस्तेमाल करने पर सभी प्रोग्राम और फाइल्स तो बंद हो जाती है, लेकिन Windows kernel बंद नहीं होता है. Windows kernel किसी ऑपरेटिंग सिस्टम का कोर है, जो सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर को एक साथ काम करने में मदद करता है. Tidrow ने बताया, 'Windows kernel डिस्क में सेव होता है और जब आप कंप्यूटर को दोबारा ऑन करते हैं, तो यह सिस्टम को तेजी से बूट होने में मदद करता है.'

Restart करने पर क्या होता है? 

विंडोज में Restart ऑप्शन चुनने पर यह Windows kernel समेत कंप्यूटर के सभी प्रॉसेस को बंद कर देता है. इसका मतलब है कि रिस्टार्ट करने पर कंप्यूटर पूरी तरह से दोबारा बूट होता है. यही वजह है कि रिस्टार्ट में शट डाउन से ज्यादा वक्त लगता है. रिस्टार्ट का इस्तेमाल किसी सॉफ्टवेयर अपडेट या इंस्टॉलेशन के वक्त किया जाता है. 

कुछ सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने के बाद या अपडेट के बाद सिस्टम को रिस्टार्ट करने की जरूरत पड़ती है. ऐसे में यदि आपका कंप्यूटर फ्रीज हो जाए या फिर कोई दिक्कत करें तो आपको Shut Down के बजाय रिस्टार्ट का इस्तेमाल करना चाहिए. स्टार्ट मेन्यू के अलावा आप CTRL + ALT + DELETE की मदद से भी Restart और Shut Down का ऑप्शन चुन सकते हैं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें