scorecardresearch
 

TikTok जैसा YouTube Shorts भारत में लॉन्च, जानें इस फीचर के बारे में

YouTube Shorts को कंपनी ने शुरुआत में भारत में ही पेश करने का फ़ैसला किया है. क्योंकि भारत में TikTok का यूज़र बेस बड़ा है और यहां ये ऐप बैन भी है.

Photo for representation Photo for representation
स्टोरी हाइलाइट्स
  • TikTok जैसे ही काम करेगा YouTube Shorts, मुख्य ऐप में मिलेगा
  • 15 सेकंड्स के वीडियोज कर सकेंगे रिकॉर्ड, मल्टिपल क्लिप मर्ज़ करने का भी ऑप्शन
  • TikTok की जगह लेने की होड़, Insta Reels के बाद अब YouTube Shorts

TikTok भले ही भारत से बैन हो चुका है, लेकिन जो शॉर्ट वीडियोज का ट्रेंड इस ऐप ने शुरू किया था वो वैसा का वैसा ही है. TikTok बैन होने के बाद से फ़ेसबुक, इंस्टा से लेकर कई ऐप्स इस स्पेस में आ चुके हैं और अब YouTube.

YouTube ने TikTok जैसे शॉर्ट वीडियो फ़ीचर Shorts का ऐलान कर दिया है. शुरुआत में कंपनी इसे भारत में पेश कर रही है. इसकी टेस्टिंग भारत में भी की जा रही है और मुमकिन है आपने भी इस फ़ीचर को YouTube ऐप में यूज किया होगा.

Shorts फीचर यूट्यूब के मुख्य ऐप में मिलता है. यहां लाइक, डिस्लाइक, कमेंट और शेयर का ऑप्शन दिया गया है. इस फ़ीचर के तहत 15 सेकंड्स के शॉर्ट वीडियो बना सकते हैं.

हालाँकि इसमें 15-15 सेकंड के मल्टिपल वीडियोज को मिला भी सकते हैं. चूंकि के पास लाइसेंस्ड म्यूज़िक लाइब्रेरी है जिसमें फ़िल्म और बैकग्राउंड म्यूज़िक हैं. इसका फ़ायदा कंपनी को मिलेगा, क्योंकि यूज़र्स इसे बिना लाइसेंस की चिंता करते हुए यूज कर पाएंगे.

शॉर्ट वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए यूज़र्स को काउंटडाउन टाइमर दिखेगा. यहां से रिकॉर्डिंग की स्पीड को कंट्रोल किया जा सकता है और क्रिएटिव्स ऐंड किए जा सकते हैं.

फ़ीचर में कुछ ऐसा नहीं है जिसे कुछ नया कहा जा सके. जिस तरह का शॉर्ट वीडियो फ़ीचर TikTok में था और इसके बाद इंस्टाग्राम ने Reels के नाम से लॉन्च किया है, ठीक इसी तरह का YouTube Shorts है.

ये फ़ीचर एंड्रॉयड और आईओएस दोनों प्लैटफ़ॉर्म पर YouTube ऐप में दिया जाएगा. चूंकि भारत TikTok के लिए बड़ा मार्केट था और अब ये बैन हो चुका है, इसलिए कंपनी सबसे YouTube Shorts भारत में ही लॉन्च कर रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें