scorecardresearch
 

Apple को फिर लगा जोर का झटका, डेटा स्टोरेज को लेकर अब इस देश ने लगाया भारी जुर्माना

Apple पर जुर्माना लगाया गया है. इसके अलावा Zoom Video Communications और Ookla पर भी जुर्माना लगाया गया है. ये जुर्माना ऐपल पर रूस ने लगाया है.

X
Apple Apple
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रूस में लगाया गया है ऐपल पर जुर्माना
  • यूजर्स के डेटा को लेकर चल रहा है विवाद

Apple को बड़ा झटका लगा है. Apple के साथ Zoom Video Communications पर जुर्माना लगाया गया है. ये जुर्माना रूस ने लगाया है. Apple पर 2 मिलियन रूबल (लगभग 27 लाख रुपये )का जुर्माना लगाया गया है. 

कंपनी पर आरोप लगाया गया कि इसने रूसी यूजर्स के डेटा को रूस में स्टोर करने से मना कर दिया. जिसके बाद मास्को कोर्ट ने Apple पर ये जुर्माना लगाया. आपको बता दें कि रूस में सरकार ऑनलाइन एक्टिविटी को कंट्रोल करना चाहती है. 

इसके अलावा Zoom Video Communications और Ookla (इंटरनेट टूल स्पीडटेस्ट करने वाली कंपनी) पर भी इसी कानून के तहत 1 मिलियन रूबल का जुर्माना लगाया गया है. रूसी सरकार कई सालों से इंटरनेट और सोशल मीडिया पर कंट्रोल करने की कोशिश कर रही है. 

इसकी वजह यूक्रेन के साथ चल रहा युद्ध है. जिसको लेकर रूस नहीं चाह रहा है कि उसके लोगों की जानकारी यूक्रेन तक पहुंचे. इससे पहले इसी साल मार्च में रूस ने फेसबुक और इंस्टाग्राम पर भी बैन लगा दिया था. कई साल से रूसी कम्युनिकेशन रेगुलेटरी एजेंसी Roskomnadzor डेटा को कंट्रोल करने की कोशिश कर रही है. 

ये एजेंसी बड़ी टेक्नोलॉजी कंपनियों को रूसी यूजर्स के डेटा को रूस में ही स्टोर करने के लिए फोर्स कर रही है. गूगल, फेसबुक और ट्विटर को भी 2015 कानून का उल्लंघन करने में दोषी पाया गया था जिस वजह से इन कंपनियों को भी जुर्माना देना पड़ा था. 

Apple पर पहली बार रूस में जुर्माना लगाया गया. इसको लेकर Interfax न्यूज एजेंसी ने रिपोर्ट किया है. कोर्ट में ऐपल ने कहा था रूस में कलेक्ट किए गए डेटा को ऐपल कंट्रोल नहीं कर रहा था. इससे एक सेपरेट इंटीटी कंट्रोल कर रही थी. इस दलील को खारिज कर दिया गया. कोर्ट में माना गया इसके लिए केवल ऐपल ही दोषी है. 

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें