scorecardresearch
 

एंड्रॉयड यूजर्स सावधान! Squid Game ऐप में पाया गया वायरस, अपने फोन से तुरंत करें डिलीट

Squid Game के फेक ऐप से एंड्रॉयड डिवाइस में Joker मैलवेयर इंस्टॉल करवाया जा रहा था. ये काफी खतरनाक मैलवेयर है. जानिए ये आपको कैसे नुकसान पहुंचा सकता है.

Squid Game Squid Game
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Netflix पर Squid Game काफी पॉपुलर वेब-सीरीज है
  • Squid Game का फेक ऐप प्ले स्टोर पर मौजूद था
  • इस ऐप को काफी लोगों ने डाउनलोड किया था

Netflix पर Squid Game काफी पॉपुलर वेब-सीरीज है. इस वजह से इसने साइबर क्रिमिनल्स का भी ध्यान अपनी ओर खींचा है. इसको लेकर वो उनलोगों को अपना शिकार बनाने लगे जो Squid Game ऐप को डाउनलोड कर रहे थे.

इसके जरिए लोगों का पैसा और पर्सनल डेटा को चुराना उनका मकसद था. इसमें साइबर क्रिमिनल्स काफी हद तक सक्सेस भी रहे. लेकिन, अब अब उनको एक्सपोज किया जा चुका है. अब गूगल ने प्ले स्टोर से Squid Game ऐप को बैन कर दिया है. 
इसका सीधा कारण था कि Squid Game ऐप को डाउनलोड करने पर यूजर्स के फोन में फेक Squid Game ऐप डाउनलोड हो जाता था. इस फेक ऐप का नाम Squid Wallpaper 4K HD रखा गया था.

इस ऐप को काफी लोगों ने डाउनलोड किया था. इस स्कैम को साइबर सिक्योरिटी फर्म ESET के रिसर्चर Lukas Stefanko ने पकड़ा. ये फेक Squid Game ऐप फैन्स को रियल गेम की जगह फ्री वॉलपेपर ऑफर करता था. इससे कई हजार लोग इस ऐप को डाउनलोड कर चुके थे. 

सिक्योरिटी फर्म ने पाया कि Squid Wallpaper 4K HD में मैलवेयर मौजूद था. इस मैलवेयर से एंड्रॉयड फोन को इन्फैक्ट किया जा सकता था. ये मैलवेयर काफी खतरनाक Joker मैलवेयर था. सबसे बड़ी दिक्कत ये थी ये गेम गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध था. 

रिसर्चर के बताने के बाद इसे गूगल ने प्ले स्टोर से हटा दिया. अगर ये आपके फोन में मौजूद है तो आपको इसे तुरंत डिलीट कर देना चाहिए. ये मैलवेयर एड दिखाने के अलावा कई प्रीमियम सर्विस को भी सब्सक्राइब कर लेता है जिससे यूजर्स को काफी नुकसान उठाना पड़ता है.
 


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें