scorecardresearch
 

दुनिया की इलेक्ट्रॉनिक मार्केट का 'घर' हुआ बंद, चीन ने लगाई पाबंदी, क्या होगा असर?

World largest Electronics Market: दुनिया की इलेक्ट्रॉनिक मार्केट्स का घर कहा जाने वाला बाजार बंद चल रहा है. चीन ने कोविड की वजह से इस मार्केट को बंद रखने का आदेश जारी किया है. इस मार्केट में आपको हजारों स्टॉल मिलेंगे, जो कम्प्यूटर के बड़े पार्ट्स से लेकर माइक्रो चिप तक बेचते हैं. इस मार्केट के बंद होने का असर दुनियाभर के बाजारों पर भी पड़ेगा.

X
China ने बंद किया दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट (प्रतीकात्मक तस्वीर)
China ने बंद किया दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोरोनावायरस महामारी से जूझ रहे चीन ने दुनिया के सबसे बड़े इलेक्ट्रॉनिक्स होलसेल मार्केट को बंद करने का फैसला किया है. इस हफ्ते सोमवार को चीन का टेक्नोलॉजी हब कहे जाने वाले Shenzhen ने होलसेल मार्केट को बंद करने का ऑर्डर जारी किया. यह ऑर्डर साउथर्न सिटी में तेजी से बढ़ रहे COVID मामलों के बाद जारी किया गया है. 

दुनिया के सबसे बड़ी इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट का घर यानी Huaqiangbei जिले के कारोबारियों को आधिकारिक आदेश जारी किया गया है. इस फैसले के तहत गुरुवार तक मार्केट बंद रहेगा, जिससे तेजी से फैल रहे COVID को रोका जा सके.

चीन का सबसे बड़ा होलसेल इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट अगर ज्यादा दिनों तक बंद रहा, तो इसका प्रभाव भारत समेत दूसरे बाजार पर भी पड़ेगा. 

क्लोज्ड लूप में काम कर रही हैं कंपनियां

टेलीकम्युनिकेशन इक्विपमेंट कंपनी Huawei Technologies, चीन की टॉप चिपमेकर सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग इंटरनेशनल कॉर्प और ऐपल सप्लायर Foxconn को भी इन नियमों का पालन करने के लिए कहा गया है. इन सभी कंपनियों को क्लोज्ड लूप सिस्टम फॉलो करना होगा, जिससे प्रोडक्शन शेड्यूल ट्रैक पर बना रहे. 

कोविड की वजह से चीन में जिस मार्केट को बंद किया गया है, उसे टेक्नोलॉजी कंपनियों का घर कहते हैं. इस बाजार में कम्प्यूटर के पार्ट्स से लेकर मोबाइल के छोटे हिस्से और माइक्रोचिप तक के हजारों स्टॉल मौजूद हैं.

कई चीजें हैं बंद

इस इलाके में रहने वाले लोगों को घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं है. यहां के लोग सिर्फ कोविड टेस्ट के लिए ही घर से बाहर निकल सकते हैं. इस एरिया में मौजूद सभी बिजनेस को गुरुवार तक के लिए बंद कर दिया गया है.

यहां सिर्फ सुपर मार्केट, फार्मेसी और हॉस्पिटल खुले रह सकते हैं. इसके अलावा सभी दुकानों तक को बंद कर दिया गया है. रेस्टोरेंट तक सस्पेंड हैं. लोग केवल टेकअवे ले सकते हैं. चीन का ये बाजार अगर ज्यादा दिनों तक बंद रहा, तो इसका असर दुनियाभर के टेक्नोलॉजी मार्केट पर पड़ेगा. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें