scorecardresearch
 

Apple ने पेश किया नए वर्जन का ऑपरेटिंग सिस्टम macOS Big Sur, टॉप फीचर्स

macOS Big Sur- नए वर्जन के इस ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ कंपनी ने दावा किया है कि सफारी में अब तक का सबसे बड़ा बदलाव किया गया है. इसके अलावा मैसेज और मैप्स में भी इंप्रूवमेंट्स हैं.

macOS Big Sur macOS Big Sur

Apple WWDC 2020: ऐपल की डेवेलपर कॉन्फ्रेंस शुरू हो चुकी है. इस दौरान कंपनी ने नया मैक ओएस लॉन्च कर दिया है. नए ओएस को macOS Big Sur कहा जाएगा.

macOS Big Sur के साथ कंपनी ने कई चीजों में बदलाव किया है, इंप्रूवमेंट किया है और नए फीचर्स दिए गए हैं. एक तरह से देखें तो कंपनी ने इसे Apple iOS की तरह बनाने की कोशिश की है, क्योंकि कई फीचर्स ऐड किए गए हैं.

apple_macos-bigsur_controlcenter_06222020_062320120627.jpg

iOS में कंट्रोल सेंटर दिया जाता है, अब macOS Big Sur में आपको कंट्रोल सेंटर दिया जाएगा. यहां से ब्राइटनेस, डू नॉट डिस्टर्ब जैसे फीचर्स को एनेबल डिसेबल कर सकेंगे. इसके साथ ही नया नोटिफिकेशन सेंटर भी दिया गया है. एक तरह के नोटिफिकेशन्स खुद से ही ग्रुप में हो जाएंगे.

macOS Big Sur Catalyst के तहत डेस्क्टॉप पर iOS ऐप्स बेहतर तरीके से आ सकेंगे और इसमें भी कुछ अपडेट्स दिए गए हैं. macOS Big Sur दरअसल macOS 11 वर्जन है. इसमें नए डिजाइन किए गए आइकॉन्स हैं, नए साउंड हैं और पहले से बेहतर एनिमेशन्स हैं.

macOS Big Sur में फोटोज, आई वर्क और मेल जैसे ऐप्स को नया डिजाइन दिया गया है. मैसेज में नया सर्च का फीचर दिया गया है और साथ ही macOS Big Sur में नए वर्जन का Maps भी दिया गया है.

apple_macos-bigsur_messages-pnnedconversations_06222020_062320120702.jpg

macOS Big Sur में आपको डॉक बटन्स भी नए डिजाइन में देखने को मिलेगा. सफारी में भी बड़े बदलाव किए गए हैं. हमेशा की तरह इस बार भी दावा किया गया है कि ये पहले से तेज होगा. लेकिन कंपनी ने कई बड़े दावे भी किए हैं.

Apple ने कहा है कि सफारी गूगल क्रोम के मुकाबले 50% ज्यादा फास्ट होगा. इसके अलावा कुछ छोटे फीचर्स भी हैं - जैसे टैब के ऊपर होवर करने पर इसका छोटा प्रिव्यू दिखाया जाएगा. इसके साथ बिल्ट इन ट्रांसलेशन फीचर भी दिया गया है. वेब पेज के लैंग्वेज को डिटेक्ट करके ये खुद ट्रांसलेट कर सकता है.

apple_macos-bigsur_redesignedapps_06222020_062320120727.jpg

सफारी में प्राइवेसी को लेकर भी कंपनी ने खास ध्यान दिया है. यूजर्स अब ये तक कर सकते हैं कि किस एक्स्टेंशन्स के साथ ब्राउजर काम कर सकता है. इसके अलावा कंपनी ने कहा है कि डेटा ब्रीच पासवर्ड मॉनिटरिंग जैसे टूल्स पासवर्ड इनफॉर्मेशन किसी के साथ शेयर नहीं करते हैं, ऐपल के साथ भी नहीं.

मैसेज में भी बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे, ये कहीं न कहीं iOS14 के साथ लॉन्च किए गए मैसेज फीचर्स की तरह होंगे. ग्रुप मैसेज यहां भी मिलेंगे जैसे iOS 14 के साथ ऐलान किए गए हैं.

इन मैक कंप्यूटर्स में मिलेगा इसका अपडेट

MacBook 2015 और इससे बाद के मॉडल, MacBook Air 2013 और इससे बाद के मॉडल, MacBook Pro 2013 और इससे बाद के मॉडल, Mac mini 2014 और इससे बाद के मॉडल , iMac (2014 और इससे बाद के मॉडल), iMac Pro (2017 और इससे बाद के मॉडल) और Mac Pro 2013 और इससे बाद के मॉडल.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें