scorecardresearch
 

iPhone की तरह अब Apple मैक कंप्यूटर्स में भी दिए जाएंगे ऐपल के इनहाउस प्रोसेसर

Apple Silicon - ऐपल अब अपने कंप्यूटर्स के लिए खुद ही प्रोसेसर बनाएगी. कंपनी ने कहा इस पर कई साल से काम किया जा रहा था. इस साल के आखिर तक ऐपल चिपसेट वाले मैक मार्केट में होंगे.

WWDC2020 कीनोट सेशन के दौरान ऐपल सीईओ टिम कुक WWDC2020 कीनोट सेशन के दौरान ऐपल सीईओ टिम कुक

अमेरिकी टेक कंपनी Apple ने एक बड़ा ऐलान किया है. WWDC2020 यानी वर्ल्ड वाइड डेवेलपर कॉन्फ्रेंस के कीनोट सेशन के दौरान कंपनी के सीईओ टिम कुक ने कहा है कि अब कंपनी अपने मैक कंप्यूटर्स के लिए अपना चिप बनाएगी. अब तक इंटेल चिपसेट का यूज किया जाता रहा है.

उदाहरण के तौर पर जिस तरह ऐपल अपने iPhone के लिए खुद से ही प्रोसेसर बनाती है उसी तरह अब कंपनी अपने लैपटॉप्स और कंप्यूटर्स के लिए भी प्रोसेसर बनाएगी.

टिम कुक ने इसे ऐतिहासिक दिन बताया है. आने वाले समय में Macs में अपना ARM बेस्ड सिलिकॉन यूज करेगी. इस साल के आखिर में कंपनी Apple Silicon के साथ पहला Mac लॉन्च करेगी.

ऐसा नहीं है कि ऐपल अब इंटेल प्रोसेसर वाले कंप्यूटर या लैपटॉप बनाना बंद कर देगी. चूंकि ट्रांजिशन में लगभग 2 साल का समय लगेगा और तब तक इंटेल के प्रोसेसर्स भी यूज किए जाते रहेंगे. टिम कुक ने ये भी कहा है कि कुछ इंटेल बेस्ड मैक्स जल्द ही लॉन्च किए जाएंगे.

इस कीनोट सेशन के दौरान macOS Big Sur भी पेश किया गया है जो ऐपल के लैपटॉप्स और कंप्यूटर्स के लिए है. ये दरअसल macOS 11 है और इसके के साथ macOS X का दौर अब खत्म हो चुका है.

ARM बेस्ड ऐपल के अपने चिपसेट से फायदा ये होगा कि iOS आने वाले समय में macOS पर काम करने लगेंगे. इससे ऐपल इकोसिस्टम पहले से बेहतर हो जाएगा और लोग इसे ज्यादा तरजीह भी देंगे.

कंपनी ने कहा है कि इसमें ज्यादातर ऐप्स काम करेंगे. इसका मतलब ये है कि ऐपल के कंप्यूटर में या मैकबुक में आप अपने आईफोन का नैटिव ऐप यूज कर सकेंगे. अभी कंपनी को अलग अलग प्लैटफॉर्म के हिसाब से ऐप्स कस्टमाइज करना होता है और इस वजह से कुछ फीचर्स यूज करने लायक नहीं रहते हैं.

Apple ने अपने चिपसेट के साथ दावा किया है परफॉर्मेंस फ्रंट पर ये अलग लेवल का है और पावर कंज्मप्शन कम होगा. कंपनी ने कहा है कि ऐपल मैक्स के लिए अपने चिपसेट बना रहा है जिनमें कुछ एक्स्क्लूसिव फीचर्स होंगे जो सिर्फ मैक में ही मिलेंगे.

ऐपल सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट ने कहा है कि ऐपल के अपने प्रो ऐप्स को macOS Big Sur के साथ कंपनी के नए सिलिकॉन को सपोर्ट करने लायक बना दिए गए हैं. कंपनी को उम्मीद है कि डेवेलपर्स भी इस हिसाब से अपने ऐप्स अपडेट कर देंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें