scorecardresearch
 

TikTok के भारत बिजनेस में निवेश कर सकती है रिलायंस, क्या बैन हटेगा?

रिलायंस और टिक टॉक की अगर ये कथित डील फाइनल होती है तो भारत में टिक टॉक की वापसी मुमकिन है. ये साफ नहीं है कि कंपनी भारत का बिजनेस पूरी तरह से खरीदेगी या सिर्फ निवेश करेगी.

Representational Image Representational Image

भारत से बैन किए जाने के बाद Tik Tok यहां फिर से एंट्री करने की तैयारी में दिख रहा है. टेक क्रंच की एक रिपोर्ट के मुताबिक मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड टिक टॉक में निवेश करने को लेकर बातचीत कर रही है.

ग़ौरतलब है कि 29 जून से टिक टॉक ऐप भारत में बैन है और इसके साथ ही चीन के कई और ऐप्स बैन किए गए थे. भारत टिक टॉक के लिए चीन के बाद सबसे बड़ा मार्केट है और शायद यही वजह की कंपनी किसी भी तरह से यहां बिज़नेस करना चाहेगी. चाहे डायरेक्ट या इनडायरेक्टली.

रिपोर्ट के मुताबिक़ रिलायंस और टिक टॉक की पेरेंट कंपनी बाइटडांस डील को लेकर दोनों कंपनियां पिछले महीने के आख़िर से बातचीत कर रही हैं, लेकिन अब तक ये डील फ़ाइनल नहीं हुई है.

टेक क्रंच ने सूत्रों के हवाले से रिपोर्ट में कहा है कि भारत में टिक टॉक की वैल्यू 3 बिलियन डॉलर से ज़्यादा की लगाई जा रही है. हालांकि दोनों कंपनियों की तरफ़ से इसे लेकर कोई भी स्टेटमेंट जारी नहीं किया गया है.

ग़ौरतलब है कि अमेरिका में माइक्रोसॉफ़्ट टिक टॉक को ख़रीदने की तैयारी में है. डील फ़ाइनल अगले महीने होने की उम्मीद है. ध्यान देने वाली बात ये है कि माइक्रोसॉफ़्ट टिक टॉक का बिज़नेस अमेरिका, कनाडा और न्यूज़ीलैंड जैसे देशों के लिए ही ख़रीद रही है.

अगर रिलायंस इंडस्ट्रीज़ टिक टॉक का बिज़नेस भारत में ख़रीदती है तो इससे दोनों कंपनियों को फ़ायदा होगा. भारत में टिक टॉक से बैन भी हट जाएगा और वीडियो स्पेस में रिलायंस जियो का दबदबा भी कायम हो सकेगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें