scorecardresearch
 

मौजूदा हालात पर बोले सुनील गावस्कर- मुश्किल में है देश, क्लास की जगह सड़कों पर छात्र

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने देश के मौजूदा हालात को लेकर कहा है कि देश उथल-पुथल में है. हमारे कुछ युवा कक्षाओं में रहने के बजाय सड़कों पर हैं और उनमें से कुछ सड़कों पर उतरने के कारण अस्पतालों में भर्ती हो रहे हैं.

पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान सुनील गावस्कर (फाइल फोटो) पूर्व भारतीय क्रिकेट कप्तान सुनील गावस्कर (फाइल फोटो)

  • देश उथल-पुथल में है: पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर
  • छात्र क्लास की बजाय सड़कों पर उतर आया: गावस्कर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने देश के मौजूदा हालात को लेकर कहा है कि देश उथल-पुथल में है. गावस्कर ने कहा है कि आज छात्र क्लास की बजाय सड़कों पर उतर आया है.

26वें लाल बहादुर शास्त्री स्मृति व्याख्यान के दौरान सुनील गावस्कर ने कहा, 'हमारे कुछ युवा कक्षाओं में रहने के बजाय सड़कों पर हैं और उनमें से कुछ सड़कों पर उतरने के कारण अस्पतालों में भर्ती हो रहे हैं. कुल मिलाकर, बहुसंख्यक वर्ग अभी भी कक्षाओं में करियर बनाने और भारत को आगे बढ़ाने और बनाने की कोशिश कर रहा है.'

उन्होंने कहा, 'हम एकजुट होकर काफी आगे जा सकते हैं. यही हमें खेल सिखाता है. जब हम साथ होते हैं तो हम जीतते हैं. भारत पहले भी कई समस्याओं से पार पा चुका है और इनसे भी निजात हासिल कर लेगा.'

दरअसल, देश में कई जगहों पर नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर विरोध प्रदर्शन देखे गए हैं. इस दौरान कई युवा इन विरोध प्रदर्शन में दिखाई दिए. इन प्रदर्शन के दौरान हिंसा भी देखी गई. कई यूनिवर्सिटी में भी छात्र सीएए और एनआरसी का विरोध करते दिखाई दिए हैं.

सड़कों पर छात्र

दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र सीएए और एनआरसी को लेकर सड़कों पर उतर आए थे. इस दौरान जामिया में हिंसा भी देखी गई थी और घायलों को अस्पताल में भी भर्ती करवाया गया था. वहीं उत्तर प्रदेश की अलीगढ़ मुस्लिम युनिवर्सिटी के स्टूडेेंट भी सीएए और एनआरसी के विरोध में सड़कों पर उतर आए थे.

वहीं पिछले ही दिनों दिल्ली में जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में हिंसा देखने को मिली. जेएनयू में कुछ नकाबपोशों ने कैंपस में घुसकर छात्रों पर हमला कर दिया. इस दौरान कई छात्र घायल हो गए. वहीं पिछले साल फीस बढ़ोतरी को लेकर भी जेएनयू छात्रों को सड़क पर प्रदर्शन करते हुए देखा गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें