scorecardresearch
 

टी-20 लीग: दिल्ली पर जीत के साथ पंजाब की उम्मीदें कायम

तूफानी पारी खेलने वाले डेविड मिलर के नेतृत्व में अपने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर पंजाब टीम ने टी-20 लीग के छठे संस्करण के 67वें और अपने 15वें मुकाबले में दिल्ली को सात रनों से हराकर अपने प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को कायम रखा है.

तूफानी पारी खेलने वाले डेविड मिलर के नेतृत्व में अपने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के दम पर पंजाब टीम ने गुरुवार को हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) मैदान पर खेले गए टी-20 लीग के छठे संस्करण के 67वें और अपने 15वें मुकाबले में दिल्ली को सात रनों से हराकर अपने प्लेऑफ में पहुंचने की उम्मीदों को कायम रखा है.

इसके लिए हालांकि उसे समीकरणों के अपने हक में आने का इंतजार करना होगा. दिल्ली की 15 मैचों में यह 12वीं हार है. टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी पंजाब ने दिल्ली के सामने जीत के लिए 172 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन दिल्ली की टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए लय से भटक गई और 20 ओवरों में सात विकेट पर 164 रन ही बना सकी. पंजाब की ओर से संदीप शर्मा ने तीन विकेट लिए जबकि पीयूष चावला को दो सफलता मिली. मिलर की मैन ऑफ द मैच चुना गया.

इस जीत के बाद किंग्स इलेवन के 12 अंक हो गए हैं. उसका प्लेऑफ में पहुंचना अब बैंगलोर और हैदराबाद की हार पर निर्भर करता है. वैसे पंजाब के अंतिम-4 के लिए क्वालीफाई करने के लिए मुम्बई के खिलाफ अपना अंतिम लीग मैच हर हाल में जीतना होगा. वैसे पंजाब के लिए चिंता की बात यह है कि हैदराबाद के खाते में दो मैच बचे हैं.

दिल्ली की शुरुआत खराब रही. कप्तान माहेला जयवर्धने (39) के साथ पारी की शुरुआत करने आए उन्मुक्त चंद (7) को 11 रन के कुल योग पर प्रवीण कुमार ने चलता किया. इसके बाद 12 रन के कुल योग पर इरफान पठान (1) और इसी योग पर डेविड वार्नर (0) चलते बने. पठान और वार्नर को संदीप शर्मा ने आउट किया.

इसके बाद वीरेंद्र सहवाग (30) ने कप्तान के साथ चौथे विकेट के लिए 39 गेंदों पर 49 रन जोड़कर उम्मीद जगाई लेकिन सहवाग के खराब फार्म ने उनका साथ नहीं छोड़ा और वह 61 रनों के कुल योग पर परविंदर अवाना की गेंद पर आउट हो गए. सहवाग ने 22 गेदों की पारी में छह चौके लगाए.

सहवाग के आउट होने के बाद जयवर्धने ने बेन रोहरर (49) के साथ पांचवें विकेट के लिए 50 रन जोड़े. इन दोनों ने ये रन 33 गेंदों पर बनाए. तेजी से जारी इस साझेदारी को संदीप ने 111 के कुल योग पर तोड़ा. संदीप ने 42 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्का लगाने वाले जयवर्धने को मनन वोहरा के हाथों कैच कराया.

रोहरर ने एक शानदार पारी खेली और उस समय आउट हुए जब दिल्ली को 6 गेंदों पर 22 रनों की जरूरत थी. वह विकेट पर रहते तो इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता था. रोहरर ने 29 गेंदों पर चार चौके और तीन छक्के लगाए. उन्होंने मुरलीधरन गौतम (नाबाद 12) के साथ छठे विकेट के लिए 18 गेंदों पर 39 रन जोड़े.

रोहरर के आउट होने के बाद मोर्ने मोर्कल (13) ने चावला के ओवर में 14 रन बटोरे लेकिन अंतिम गेंद पर मोर्कल आउट हो गए. मोर्कल ने चार गेंदों पर दो छक्के लगाए.

इससे पहले, पिछले मैच में पंजाब को बैंगलोर के खिलाफ जीत दिलाने वाले कप्तान एडम गिलक्रिस्ट ने इस मैच में भी अपनी टीम को सधी हुई शुरुआत दी. सलामी बल्लेबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के अलावा आखिरी ओवर में तेज बनाए गए रनों की बदौलत पंजाब ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट पर 171 रनों का स्कोर खड़ा किया.

गिलक्रिस्ट (42) तथा शॉन मार्श (45) के बीच पहले विकेट के लिए 60 रनों की साझेदारी हुई. गिलक्रिस्ट आठवें ओवर की तीसरी गेंद पर इरफान पठान के हाथों कॉट एंड बोल्ड हुए. गिलक्रिस्ट ने 26 गेंदों में पांच चौके तथा दो छक्के लगाए.

पिछले मैच में बैंगलोर के खिलाफ जीत दिलाने में गिलक्रिस्ट के साथ महत्वपूर्ण पारी खेलने वाले अजहर महमूद (9) हालांकि कुछ खास नहीं कर सके और पंजाब के योग में 26 रन जोड़कर सिद्धार्थ कौल के हाथों कैच आउट हुए.

सलामी बल्लेबाज मार्श ने भी बेहतरीन प्रदर्शन किया. उन्होंने 44 गेंदों का सामना कर सात चौके लगाए. मार्श को मोर्ने मोर्केल ने पठान के हाथों कैच आउट कराया.

इसके बाद चौथे विकेट की साझेदारी में डेविड मिलर (44) तथा राजगोपाल सतीश (22) ने आखिरी 18 गेंदों में 47 रन जोड़कर पंजाब का स्कोर 171 तक पहुंचा दिया.

मिलर ने काफी आक्रामक तरीके से खेलते हुए 24 गेंदों में तीन चौके तथा चार छक्के लगाए. आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर सतीश को बेन रोहरर ने लपक लिया. दिल्ली के लिए आशीष नेहरा नो दो विकेट तथा पठान और मोर्कल ने एक-एक विकेट लिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें