scorecardresearch
 

मोटेरा में अश्विन के करीब ये 'माइल स्टोन', हैडली-स्टेन को छोड़ सकते हैं पीछे

टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट पूरे करने के करीब हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट में अश्विन कई रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं.

Ravichandran Ashwin (@BCCI) Ravichandran Ashwin (@BCCI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अश्विन टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट पूरे करने के करीब हैं
  • मोटेरा में हासिल कर सकते हैं ये उपलब्धि, चाहिए 6 विकेट
  • बुधवार से खेला जाएगा डे-नाइट टेस्ट, 1-1 से बराबर है सीरीज

टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन टेस्ट क्रिकेट में 400 विकेट पूरे करने के करीब हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट में अश्विन कई रिकॉर्ड अपने नाम कर सकते हैं. तीसरा टेस्ट मैच बुधवार से अहमदाबाद के नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम में खेला जाएगा. अश्विन तीसरे टेस्ट में 6 विकेट लेते ही सबसे तेज 400 विकेट लेने वाले विश्व के दूसरे बॉलर बन जाएंगे.

साउथ अफ्रीका के डेल स्टेन और न्यूजीलैंड के रिचर्ड हैडली ने 80 टेस्ट मैचों में अपने 400 विकेट पूरे किए थे. रविचंद्रन अश्विन के पास अपने 77वें टेस्ट में ही 400 विकेट लेने का बेहतरीन मौका है. श्रीलंका के महान स्पिनर मुथैया मुरलीधरन ने महज 72 टेस्ट मैचों में रिकॉर्ड 400 विकेट पूरे कर लिये थे. 

34 साल के अश्विन 400 विकेट लेने वाले दुनिया के छठे और भारत के तीसरे स्पिनर होंगे. भारतीय स्पिनर्स में अनिल कुंबले (619) और हरभजन सिंह (417) यह उपलब्धि हासिल कर चुके हैं.

इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में भी अश्विन ने कई उपलब्धियां अपने नाम की थी. उन्होंने भारत में सबसे ज्यादा टेस्ट विकेट लेने के मामले में हरभजन सिंह को पीछे छोड़ दिया था. अश्विन के नाम अब भारत में 45 टेस्ट मैचों में 22.49 की औसत से 271 टेस्ट विकेट हो गए हैं. हरभजन सिंह 55 मैचों में 265 विकेट लेकर तीसरे नंबर पर हैं. वहीं, अनिल कुंबले ने भारत में 63 टेस्ट मैचों में 350 विकेट निकाले थे. 

अश्विन ने दूसरे टेस्ट की पहली पारी में 53 रन देकर पांच विकेट लिये. यह अश्विन का ओवरऑल 29वां, जबकि भारत में 23वां 5 विकेट हॉल था. अश्विन घर पर सबसे ज्यादा 5 विकेट हॉल लेने वाले खिलाड़ियों में जिमी एंडरसन को पछाड़ चौथे नंबर पर आ गए. अश्विन से आगे सिर्फ मुथैया मुरलीधरन (45), रंगना हेराथ (26), और अनिल कुंबले (25) हैं. अश्विन ने उस टेस्ट में स्टुअर्ट ब्रॉड को आउट कर एक खास रिकॉर्ड बनाया. अश्विन टेस्ट मैचों में 200वीं बार बाएं हाथ के बल्लेबाज को आउट करने वाले विश्व के पहले गेंदबाज बने.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें