scorecardresearch
 

KL राहुल बोले- मौका मिला तो अगले 3 वर्ल्ड कप में विकेटकीपिंग करना चाहूंगा

भारत के सीमित ओवरों के उपकप्तान केएल राहुल ने बुधवार को कहा कि मौका मिलने पर वह अगले तीन वर्ल्ड कप में विकेटकीपिंग करना चाहेंगे, हालांकि टीम प्रबंधन ने उनसे इस बारे में कोई बात नहीं की.

KL Rahul (File) KL Rahul (File)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अगले 3 साल में 2 टी20 वर्ल्ड कप और एक वनडे वर्ल्ड कप होना है
  • पंत और सैमसन के रहते राहुल करना चाहते हैं विकेटकीपिंग
  • ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 27 नवंबर से शुरू हो सही है सीरीज

भारत के सीमित ओवरों के उपकप्तान केएल राहुल ने बुधवार को कहा कि मौका मिलने पर वह अगले तीन वर्ल्ड कप में विकेटकीपिंग करना चाहेंगे, हालांकि टीम प्रबंधन ने उनसे इस बारे में कोई बात नहीं की. राहुल सीमित ओवरों में विशेषज्ञ विकेटकीपर ऋषभ पंत और संजू सैमसन के रहते भारतीय टीम की पहली पसंद बन गए हैं.

अगले तीन साल में 2 टी20 वर्ल्ड कप और एक वनडे वर्ल्ड कप होना है. 28 साल के राहुल ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 27 नवंबर से शुरू हो रही सीमित ओवरों की सीरीज से पहले कहा, ‘मेरे विकेटकीपिंग करने से टीम संयोजन में मदद मिलती है और मुझे भी यह पसंद है. मौका मिलने पर मैं तीनों विश्व कप में विकेटकीपिंग करना चाहूंगा.’ 

यह पूछने पर कि क्या टीम प्रबंधन ने उनसे इस बारे में बात की है, उन्होंने कहा, ‘मुझसे कुछ कहा नहीं गया है और हम एक टीम के रूप में इतनी आगे का नहीं सोच रहे हैं. विश्व कप अहम है, लेकिन हर टीम और देश के लिए दीर्घकालिन रणनीति होती है.’ 

कर्नाटक के इस स्टायलिश बल्लेबाज ने कहा, ‘मैं एक समय पर एक ही मैच के बारे में सोचता हूं. अगर मैं लगातार अच्छा प्रदर्शन करता रहा, तो हमारे पास अतिरिक्त गेंदबाज और बल्लेबाज को उतारने का मौका होगा.’ 

राहुल वनडे में पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हैं और टी20 में पारी का आगाज करते हैं. उन्होंने स्वीकार किया कि बल्लेबाजी क्रम में उनका स्थान प्रारूप पर निर्भर करता है. उन्होंने कहा, ‘यह इस पर निर्भर करता है कि टीम मुझसे क्या चाहती है और कौन सा टीम संयोजन बेहतर होगा.’ 

देखें: आजतक LIVE TV 

उन्होंने कहा, ‘न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में मैंने 5वें नंबर पर बल्लेबाजी का भी मजा लिया. टीम मुझे जो भी भूमिका देगी, मैं उसे निभाकर खुश हूं.’ क्या वह महेंद्र सिंह धोनी की तरह कुलदीप यादव या युजवेंद्र चहल की गेंदों पर विकेटकीपिंग कर सकेंगे, उन्होंने कहा, ‘एमएस धोनी की जगह कोई नहीं ले सकता. उन्होंने हमें रास्ता दिखाया है कि विकेटकीपर बल्लेबाज की भूमिका कैसे निभाते हैं.’ 

उन्होने कहा, ‘कुलदीप, युजी या जड्डू के साथ अच्छी दोस्ती है और कोई गलती होने पर मैं उन्हें फीडबैक दूंगा कि किस लेंथ से गेंदबाजी करनी है या कोई भी विकेटकीपर ऐसा ही करेगा.’ किंग्स इलेवन पंजाब (KXIP) के लिए कप्तानी, विकेटकीपिंग और पारी की शुरुआत करने से उन्हें अनुभव मिल गया कि दबाव का सामना कैसे करना है और यह अनुभव भारतीय टीम के लिए उपकप्तान के तौर पर उनके काम आएगा. 

उन्होंने कहा, ‘आईपीएल में मुझे इसका अनुभव मिला. यह चुनौतीपूर्ण था, लेकिन अब मुझे इसकी आदत हो गई है और इसमें मजा आ रहा है. उम्मीद है कि वह लय कायम रहेगी.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें