scorecardresearch
 

उम्मीद है कि भारतीय क्रिकेट आगे बढ़ेगा: जॉन राइट

पूर्व भारतीय कोच जान राइट ने दिन रात्रि टेस्ट मैच को मंजूरी दिये जाने के आईसीसी के फैसले पर सवाल उठाया और कहा कि क्या यह वास्तविकता में खरा उतरेगा.

जॉन राइट जॉन राइट

पूर्व भारतीय कोच जान राइट ने दिन रात्रि टेस्ट मैच को मंजूरी दिये जाने के आईसीसी के फैसले पर सवाल उठाया और कहा कि क्या यह वास्तविकता में खरा उतरेगा.

राइट ने कहा, ‘मैं परंपरावादी हूं. मैं पक्के तौर पर नहीं कह सकता कि यदि न्यूजीलैंड में कड़ाके की ठंड में टेस्ट मैच खेलना व्यावहारिक होगा. लगता है कि इसे टीवी के दर्शकों की संख्या बढ़ाने और अधिक दर्शकों को खींचने के लिये किया गया है.’

कोच डंकन फ्लैचर के रहते हुए भारतीय क्रिकेट के वर्तमान दौर पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा, ‘उम्मीद है कि भारतीय क्रिकेट आगे बढ़ेगा. हमारे सामने अपनी चुनौतियां थी. गैरी कर्स्टन का कार्यकाल शानदार रहा लेकिन फ्लैचर का कार्यकाल अभी समाप्त नहीं हुआ है. मेरे लिये उनकी कोचिंग पर टिप्पणी करना अच्छा नहीं होगा.’

राइट ने हालांकि विदेशों में भारतीय प्रदर्शन पर चिंता जतायी.

उन्होंने कहा, ‘आपको लय बनाये रखनी होती है. नंबर एक बनने के लिये आपको विदेशों में टेस्ट मैच जीतने होते हैं.’

भारतीय क्रिकेट ने राइट के सौरव गांगुली के साथ सफल संयोजन से आगे बढ़ना शुरू किया. भारतीय टीम महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में नंबर एक बनी लेकिन इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के हाथों 0-4 की समान हार के बाद वह नीचे खिसक गयी. राइट ने कहा कि कि कप्तान धोनी का अभी आकलन नहीं किया जा सकता.

उन्होंने कहा, ‘वे धोनी की अगुवाई में नंबर एक पर पहुंचे और वह काफी सफल रहे थे. आपकी जिंदगी में हमेशा उतार चढ़ाव आते रहते हैं.’

सचिन तेंदुलकर के संन्यास पर उन्होंने कहा, ‘मुझे पूरा विश्वास है कि वह सही समय पर यह फैसला करेंगे कि उन्हें कब संन्यास लेना है. लेकिन जब वह मैदान पर रहेगा तब तक पूरे प्रवाह से खेलता रहेगा.’ तेंदुलकर के लगातार बोल्ड होने से भी राइट चिंतित नहीं हैं.

उन्होंने कहा, ‘यदि मैं गलत नहीं हूं तो उन्हें अधिकतर बायें हाथ के गेंदबाजों ने बोल्ड किया है. मुझे याद है कि कुछ साल पहले वेस्टइंडीज के प्रेडो कोलिन्स ने उन्हें बोल्ड किया था. लेकिन मुझे नहीं लगता कि यह कोई तकनीकी खामी या चिंता का विषय है. वह इस तरह की चुनौतियों से उबरने में सक्षम है.’

उन्होंने कहा, ‘मैं सचिन के शतक या दोहरे शतक के प्रति आशावादी हूं. मुझे पूरा विश्वास है कि वह इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया पर हावी होने के लिये पूरी तरह से प्रेरित होगा.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें