scorecardresearch
 

Manipal Marathon: मणिपाल एकडेमी का कैंसर के खिलाफ मुहिम, अगले साल करेगा मैराथन का आयोजन

मणिपाल मैराथन अगले साल 12 फरवरी को आयोजित किया जाएग. इस मैराथन में लगभग भारत समेत दुनिया के कई देशों के लगभग 15000 धावक भाग लेने वाले हैं. अबकी बार मणिपाल मैराथन काफी खास होने जा रहा है. इस पांचवें मणिपाल मैराथन का उद्देश्य बचपन में होने वाले कैंसर के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करना है.

X
मणिपाल मैराथन
मणिपाल मैराथन

मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन (MAHE) ने पांचवें मणिपाल मैराथन 2023 (एमएम-2023) की घोषणा की। यह कार्यक्रम एमएएचई द्वारा उडुपी डिस्ट्रिक्ट अमेच्योर एथलेटिक एसोसिएशन और एनईबी स्पोर्ट्स बेंगलुरु के सहयोग से आयोजित किया जाएगा. मणिपाल मैराथन उडुपी जिले में हर साल होने वाला एक आयोजन है और देश के सबसे बड़े मैराथन में से एक है.

इसके पिछले आयोजनों में सभी उम्र के दुनिया भर के पेशेवर रेसर, एथलीट और अन्य लोगों ने हिस्सा लिया था. पांचवें मणिपाल मैराथन का उद्देश्य बचपन में होने वाले कैंसर के बारे में जागरूकता पैदा करना है. इसकी टैगलाइन है, 'अर्ली डिटेक्शन सेव्स लाइफ आई कैन सर-वाइव.' इस आयोजन के जरिए बचपन के कैंसर के इलाज हुए धन भी जुटाया जाएगा.

12 फरवरी को होगा मैराथन का आयोजन

मणिपाल मैराथन 12 फरवरी 2023 को आयोजित किया जाएगा. इसमें लगभग 15000 धावकों के भाग लेने का अनुमान है जो पिछले सीजन से करीब 5000 की अधिक संख्या है. इस आयोजन में इथियोपिया, जर्मनी, केन्या, इंग्लैंड, नेपाल, मलेशिया और श्रीलंका के धावक भाग ले चुके हैं और 2023 के सीजन में भी यही उम्मीद है.

चांसलर ने कही ये बात

आयोजन के बारे में बताते हुए मणिपाल एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन के प्रो चांसलर डॉ एचएस बल्लाल ने कहा  'हम 2023 में  मणिपाल मैराथन का फिर से आयोजन करने को लेकर बेहद खुश हैं. एमएएचई ने हमेशा अपने छात्रों के बीच फिटनेस और अच्छे स्वास्थ्य की भावना पैदा करने का प्रयास किया है और इसे प्राप्त करने के लिए दौड़ना एक उत्कृष्ट तरीका है. इस साल मैराथन का उद्देश्य बचपन के कैंसर से लड़ने के नेक काम के लिए धन जुटाना है. पहले साल के बाद से इस मैराथन में अद्भुत भागीदारी देखी गई है.'

एमएएचई के कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल एमडी वेंकटेश ने कहा, 'स्वास्थ्य और कल्याण को बनाए रखना वर्तमान समय में सर्वोच्च प्राथमिकता बन गया है. मणिपाल मैराथन फिटनेस के बारे में जागरूकता बढ़ाएगा और छात्रों तथा अन्य प्रतिभागियों को नियमित दौड़कर फिटनेस और स्वास्थ्य की स्थिति में सुधार करने के लिए प्रोत्साहित करेगा.'

एथलीटों के लिए यह बढ़िया मौका

उडुपी जिला अमेच्योर एथलेटिक एसोसिएशन के अध्यक्ष और उडुपी के विधायक श्री के रघुपति भट ने आयोजकों को अपनी शुभकामनाएं दीं और पांचवें मणिपाल मैराथन की सफलता की आशा जताई. अर्जुन पुरस्कार विजेता रीथ अब्राहम, निदेशक-एनईबी स्पोर्ट्स ने कहा, 'हम एमएएचई और उडुपी डिस्ट्रिक्ट अमेच्योर एथलेटिक एसोसिएशन के साथ जुड़कर खुशी महसूस कर रहे हैं. इस मैराथन ने  पिछले वर्षों में पेशेवर एथलीटों को आगे बढ़ने के लिए एक मंच प्रदान किया है और भविष्य में भी ऐसा करना जारी रखेगा.'


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें