scorecardresearch
 

Handball player sexual assault case: हैंडबॉल प्लेयर के साथ यौन शोषण, इंडियन एसोसिएशन के ट्रेजरर के खिलाफ FIR दर्ज

महिला हैंडबॉल प्लेयर का आरोप है कि उत्तर प्रदेश ओलंपिक एसोसिएशन (UPOA) के महासचिव आनंदेश्वर पांडेय ने लखनऊ में ट्रेनिंग कैम्प के दौरान रेप की कोशिश की थी. कहा था कि बहुत सी लड़कियों को इंटरनेशनल प्लेयर बना दिया है और तुम्हें भी बना दूंगा. इसके लिए मेरे साथ दो साल शारीरिक संबंध बनाने होंगे...

X
UP Olympic Association UPOA secretary-general Anandeshwar Pandey (Twitter)
UP Olympic Association UPOA secretary-general Anandeshwar Pandey (Twitter)

Handball player sexual assault case: भारतीय खेलों में एक बार फिर यौन शोषण का मामला सामने आया है. एक नेशनल लेवल की महिला हैंडबॉल प्लेयर ने अपने साथ हुए यौन शोषण को लेकर इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन (IOA) के ट्रेजरर आनंदेश्वर पांडेय के खिलाफ पुलिस में FIR दर्ज कराई है.

आनंदेश्वर पांडेय उत्तर प्रदेश ओलंपिक एसोसिएशन (UPOA) में भी महासचिव के पद पर हैं. दरअसल, हाल ही में आनंदेश्वर पांडेय की कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुई हैं. ऐसे में पांडेय लगातार सवालों के घेरे में हैं और उनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं.

पांडेय के खिलाफ रेप की कोशिश और धमकाने का मामला दर्ज

UPOA के महासचिव आनंदेश्वर पांडेय के खिलाफ केस करने वाली महिला खिलाड़ी 2017 से शस्त्र सीमा बल (SSB) सिपाही के पद पर तैनात है. प्लेयर ने पांडेय के खिलाफ राजस्थान के भिवाड़ी महिला थाने में केस दर्ज कराया है. फिलहाल, महिला खिलाड़ी अपनी बहन के साथ अलवर में रहती है. प्लेयर ने पांडेय के खिलाफ रेप की कोशिश और धमकाने का मामला दर्ज कराया है.

पांडेय ने दो साल शारीरिक संबंध बनाने की शर्त रखी थी

खिलाड़ी ने आरोप लगाया कि आनंदेश्वर पांडेय ने उसे इंटरनेशनल प्लेयर बनाने के लिए दो साल तक शारीरिक संबंध बनाने की शर्त रखी थी. महिला प्लेयर का आरोप है कि पांडेय ने लखनऊ के केडी सिंह बाबू स्टेडियम में स्पेशल ट्रेनिंग कैम्प के दौरान रेप की कोशिश की थी.

FIR के मुताबिक, पांडेय ने कहा था कि बहुत सी लड़कियों को इंटरनेशनल प्लेयर बना दिया है और तुम्हें भी बना दूंगा. इसके लिए मेरे साथ दो साल शारीरिक संबंध बनाने होंगे.

पांडेय ने राजनीतिक और चुनाव से हटाने की साजिश बताई

दूसरी ओर आनंदेश्वर पांडेय ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि खेल के क्षेत्र में उनकी छवि को खराब करने के लिए इस तरह के आरोप लगाए जा रहे हैं. पांडेय ने इसे राजनीतिक साजिश बताते हुए लखनऊ पुलिस साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है.

पांडेय ने पिछले हफ्ते दावा किया था कि कुछ समय बाद भारतीय ओलंपिक संघ का चुनाव होने वाला है, जिसमें वे भी उम्मीदवार होने वाले हैं. मगर संघ के कुछ पूर्व और मौजूदा पदाधिकारियों को यह ठीक नहीं लग रहा है. वह नहीं चाहते कि मैं भी चुनाव में भाग लूं. यही वजह भी है कि बदनाम करने के लिए यह सब किया जा रहा है.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें