scorecardresearch
 

RCB vs LSG IPL 2022: चोट से उबर कर आए थे हर्षल पटेल, रन बचाकर बन गए RCB की जीत के हीरो

IPL एलिमिनेटर में आरसीबी ने लखनऊ टीम को हराया. हर्षल पटेल ने 4 ओवर में सिर्फ 25 रन दिए और टीम को अहम जीत दिलाई...

X
Harshal Patel (@IPL) Harshal Patel (@IPL)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हर्षल पटेल को मैच से पहले हाथ में लगे थे टांके
  • लखनऊ टीम के खिलाफ की किफायती गेंदबाजी

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2022 सीजन में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) का शानदार सफर जारी है. आरसीबी अब अपने पहले खिताब से सिर्फ दो जीत दूर है. उसने बुधवार को खेले गए एलिमिनेटर मुकाबले में केएल राहुल की कप्तानी वाली नई टीम लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) को 14 रनों से करारी शिकस्त दी.

मैच में रजत पाटीदार ने शानदार शतक जड़ा और मैच के हीरो बन गए. लेकिन तेज गेंदबाज हर्षल पटेल का योगदान भी कम नहीं है. वो भी तब जब वह चोट से ठीक होकर मैदान में उतरे हों. इस अहम मुकाबले से ठीक पहले आरसीबी ने ग्रुप स्टेज में अपना आखिरी यानी 'करो या मरो का मैच' गुजरात टाइटन्स के खिलाफ खेला था.

हाथ में टांके लगे थे हर्षल पटेल को

उस मैच में हर्षल पटेल चोटिल हो गए थे. फील्डिंग के दौरान उनके दाएं हाथ में चोट लग गई थी. हर्षल को इलाज के लिए ले जाया गया था और उनके हाथ में टांके लगाने पड़े थे. इसके बाद एलिमिनेटर से पहले हर्षल पटेल को ठीक होने के लिए 6 दिन का समय मिला. चोट से उबरकर हर्षल ने मैदान में वापसी की और अपनी टीम को शानदार जीत दिलाई. 208 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी लखनऊ टीम के खिलाफ हर्षल ने 4 ओवर गेंदबाजी की.

आखिरी ओवर में 24 रन नहीं बनने दिए

इस दौरान हर्षल को विकेट तो एक ही मिला, लेकिन उन्होंने बेहद किफायती गेंदबाजी की. उन्होंने सिर्फ 25 रन ही दिए. आखिरी ओवर में लखनऊ टीम को जीत के लिए 24 रनों की जरूरत थी. तब यह ओवर हर्षल पटेल को मिला. क्रीज पर दुष्मंथा चमीरा और इविन लुईस थे. ऐसे में हर्षल ने सधी हुई गेंदबाजी की और सिर्फ 9 रन ही दिए. इस तरह आरसीबी ने यह मैच 14 रनों से जीत लिया.

हाथ में अब भी दर्द बना हुआ है: हर्षल पटेल

मैच के बाद हर्षल ने कहा, 'मेरा हाथ अभी ठीक है. इसमें अभी अंदर से दर्द बना हुआ है. जब भी मैं अंगूठा खींचता हूं, तो दर्द होता है. मैंने अपनी हार्ड लेंथ और स्लोअर बॉलिंग पर ज्यादा काम किया, जो फायदेमंद रहा. मैंने जो रणनीति स्टोइनिस के लिए बनाई थी, उसने लिविंग्सटोन के खिलाफ काम किया, पर आज नहीं. इसके बाद मैंने अपनी पुरानी नीतियां ही अपनाईं.'

मुझे ऐसी परिस्थिति में रहना पसंद है

हर्षल ने कहा कि जब आपको 18 गेंदों में 34 रन का बचाव करना हो, तो स्वभाविक है कि आप घबराने वाले हैं. पर मैंने अपनी पुरानी नीतियों को ही फॉलो किया. मैं गेंदबाजी कर पाऊंगा या नहीं, ये बात तो मैं नहीं जानता था, पर इसमें कोई शक नहीं है कि मुझे ऐसी परिस्थिति में रहना पसंद है. मैं हरियाणा के लिए पिछले 2-3 सालों से ऐसा करता आ रहा हूं. मैं खुद को ऐसे हालत में डालता रहूंगा, यह कभी काम करता है, तो कभी नहीं भी करता है. मैं चुनौतियों से घबराता नहीं हूं. 

रजत पाटिदार ने जड़ा मैच विनिंग शतक

एलिमिनेटर मुकाबले में लखनऊ के कप्तान केएल राहुल ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया था. ऐसे में आरसीबी ने 4 विकेट गंवाकर 207 रन बनाए. रजत पाटिदार ने 54 बॉल पर 112 रनों की पारी खेली, जबकि दिनेश कार्तिक ने 23 बॉल पर नाबाद 37 रन बनाए.

जवाब में लखनऊ की टीम 6 विकेट गंवाकर 193 रन ही बना सकी और 14 रनों से यह मैच गंवा दिया. कप्तान केएल राहुल ने 58 बॉल पर 79 रनों की पारी खेली, जबकि दीपक हुड्डा ने 26 बॉल पर 45 रन बनाए. रजत पाटिदार को प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें