scorecardresearch
 

Delhi Capitals IPL 2022: आईपीएल की 'चोकर्स' साबित हो रही दिल्ली कैपिटल्स, कैप्टन ऋषभ पंत की उम्मीदों पर फिरा पानी!

दिल्ली कैपिटल्स के लिए आईपीएल 2022 काफी औसत सीजन गया. कप्तान ऋषभ पंत की अगुवाई में टीम इस बार भी प्लेऑफ में पहुंचने में नाकाम ही रही. दिल्ली के लिए यह सीजन कैसा गया, एक नज़र डालिए...

X
Rishabh Pant, Ricky Ponting (@IPL) Rishabh Pant, Ricky Ponting (@IPL)

इंडियन प्रीमियर लीग 2022 (IPL 2022) में एक बार फिर अनलकी साबित हुई दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) फिर से खिताब से दूर रह गई है. दिल्ली कैपिटल्स अभी तक एक भी बार इंडियन प्रीमियर लीग की ट्रॉफी अपने नाम नहीं कर पाई है. हर सीजन में ऐसा लगता है कि यह टीम बेहतर होकर आई है, लेकिन हर बार टीम प्लेऑफ से पहले या प्लेऑफ में जाकर अटक जाती है. आईपीएल 2022 में टीम के साथ कहां पर चूक हुई, आइए दिल्ली कैपिटल्स के सफर को समझते हैं... 

युवा कप्तान जो गलतियों से सीख रहा है...

दिल्ली कैपिटल्स की टीम ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की अगुवाई में आईपीएल खेलने के लिए उतरी. 24 साल के ऋषभ को टीम इंडिया के भविष्य के लीडर के तौर पर भी देखा जा रहा है, ऐसे में उनके सभी लिटमस टेस्ट आईपीएल में ही हो रहे हैं. ऋषभ पंत ने बतौर बल्लेबाज इस बार बेहतर प्रदर्शन किया, हालांकि उनके बल्ले से कोई बड़ी पारी नहीं आई. 

लेकिन कप्तान के तौर पर देखें तो पूरे सीजन में ऋषभ पंत कई ऐसे ब्लंडर करते दिखे जो उनकी टीम पर ही भारी पड़े. राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ हुए नो-बॉल विवाद के बीच जिस तरह से उनका गुस्सा दिखा, वह एक बचकानी हरकत को दिखाता है. उसके बाद मुंबई इंडियंस के खिलाफ अहम मुकाबले में डीआरएस को लेकर गलत फैसलों ने मैच के पूरे रुख को पलट दिया. 

हालांकि यह सिर्फ कुछ उदाहरण हैं लेकिन ऋषभ पंत के लिए यह बेहतर है कि ये सब गलतियां उनसे कप्तानी करियर के शुरुआती वक्त में हो रही हैं, ताकि उन्हें काफी कुछ सीखने को मिल रहा है. 

क्लिक करें: रोहित शर्मा ही साबित हुए मुंबई इंडियंस की बड़ी कमजोरी, ऑक्शन की गलतियां पड़ीं भारी!

बिना वॉर्नर सब सूना

दिल्ली कैपिटल्स की बल्लेबाजी को देखें तो उनके पास कई बड़े हिटर हैं लेकिन टूर्नामेंट में डेविड वॉर्नर के अलावा कोई भी दूसरा बल्लेबाज लगातार रन बनाता हुआ नहीं दिखा. इस सीजन में डेविड वॉर्नर कुछ वक्त बाद जुड़े थे, लेकिन उसके बाद वह लगातार स्कोर करते रहे. डेविड वॉर्नर ने इस सीजन में 12 मैच में 432 रन बनाए और टीम के टॉप स्कोरर रहे. 

दूसरे ओपनर पृथ्वी शॉ इस बार लय में नहीं दिखे और पूरे सीजन में 300 से कम रन बना पाए. वहीं, मिचेल मार्श और रॉवमैन पावेल जैसे बड़े हिटर सिर्फ कुछ मैच में ही अपना जलवा दिखा पाए. यही कारण है कि अगर डेविड वॉर्नर किसी मैच में फेल हुए, तब दिल्ली कैपिटल्स को बल्लेबाजी ने बाद में निराश ही किया. 

कुलदीप बने टीम के सबसे बड़े स्टार

अगर बॉलिंग की बात करें तो दिल्ली कैपिटल्स की टीम पूरी तरह से कुलदीप यादव के इर्दगिर्द दिखी. खराब फॉर्म और लंबे वक्त तक मैदान से बाहर रहने वाले कुलदीप यादव ने जबरदस्त वापसी की और सीजन में कुल 21 विकेट लिए. कुलदीप के अलावा खलील अहमद, शार्दुल ठाकुर दिल्ली कैपिटल्स की ओर से ज्यादा विकेट ले पाए. टीम के लिए निराशा एनरिक नॉर्किया की ओर से आई, जिन्हें रिटेन किया गया था लेकिन खराब फिटनेस-फॉर्म के चलते वह सिर्फ 6 ही मैच खेल पाए और 6 ही विकेट ले पाए. 

दिल्ली कैपिटल्स के लिए अब आगे क्या?

पिछले कई सीजन से दिल्ली कैपिटल्स की किस्मत को देखें, तो वह आईपीएल की चोकर्स नज़र आती है. दिल्ली कैपिटल्स हर सीजन लीग मैचों में बेहतर प्रदर्शन करती है, लेकिन आखिर में आकर बिखर जाती है. युवा श्रेयस अय्यर की कप्तानी में भी ये हुआ और अब ऋषभ पंत की कप्तानी में भी ऐसा ही हो रहा है. ऐसे में आने वाले सीजन में दिल्ली कैपिटल्स चाहेगी कि वह इस मिथ को तोड़ सके और प्लेऑफ में बेहतर करने की कोशिश करें. 

कोच रिकी पोंटिंग ने जिस तरह ऋषभ पंत का बचाव किया, उससे साफ है कि टीम अभी भी ऋषभ पंत को ही कप्तान बनाकर रखेगी. ऐसे में दिल्ली के लिए अब चुनौती होगी कि वह डेविड वॉर्नर के अलावा बल्लेबाजी में एक और ऐसा प्लेयर चाहे जो लगातार बेहतर प्रदर्शन करे और मुश्किल में टीम के काम आ पाए. साथ ही टीम को तेज़ गेंदबाज़ में भी किसी दमदार बॉलर की ज़रूरत होगी, क्योंकि पहले यह काम कगिसो रबाडा करते थे लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो पाया. 

आईपीएल 2022 में दिल्ली कैपिटल्स 
कुल मैच- 14, जीत- 7, हार- 7 


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें