scorecardresearch
 

IPL-14 सस्पेंड होने के बाद भी भारत में रहेंगे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी! ये है वजह

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 14वें सीजन को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है. कई टीमों में कोरोना के मामले सामने आने के बाद बीसीसीआई ने यह फैसला किया है. इस कदम के बाद बीसीसीआई के सामने सबसे बड़ी चुनौती है विदेशी खिलाड़ियों को वापस भेजने की. 

डेविड वॉर्नर और ग्लेन मैक्सवेल डेविड वॉर्नर और ग्लेन मैक्सवेल
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को वापस भेजना बीसीसीआई के लिए चुनौती
  • क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया कहा चुका है कि वह चार्टर फ्लाइट नहीं देगा

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 14वें सीजन को अनिश्चितकाल के लिए टाल दिया गया है. कई टीमों में कोरोना के मामले सामने आने के बाद बीसीसीआई ने यह फैसला किया है. इस कदम के बाद बीसीसीआई के सामने सबसे बड़ी चुनौती है विदेशी खिलाड़ियों को वापस भेजने की. 

लीग में ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, बांग्लादेश, दक्षिण अफ्रीका, न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज के खिलाड़ी खेल रहे थे. ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों ने अपने यहां से भारत की फ्लाइट बंद कर दी है. ऑस्ट्रेलिया के कई क्रिकेटर आईपीएल का हिस्सा हैं, जिसमें स्टीव स्मिथ (दिल्ली कैपिटल्स), ग्लेन मैक्सवेल (आरसीबी), डेविड वॉर्नर (सनराइजर्स हैदराबाद) और पैट कमिंस (कोलकाता नाइट राइडर्स) जैसे बड़े नाम शामिल हैं.

इसके अलावा रिकी पोंटिंग (दिल्ली कैपिटल्स) और साइमन कैटिच (रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु) जैसे हाई प्रोफाइल ऑस्ट्रेलियाई भी आईपीएल का हिस्सा हैं. मैथ्यू हेडन, ब्रेट ली और लीजा स्टालेकर जैसे पूर्व दिग्गज खिलाड़ी टूर्नामेंट की कमेंट्री टीम का हिस्सा हैं. ऑस्ट्रेलिया ने भारत से आने और जाने वाली उड़ानों पर 15 मई रोक लगा दी है. ऐसे में इन खिलाड़ियों को वापस उनके घर भेजना बीसीसीआई के लिए चुनौती है. सवाल उठता है कि ये खिलाड़ी 15 मई तक भारत में रहेंगे या कोई अन्य विकल्प तलाशेंगे. 

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया में जारी किया बयान

उधर, आईपीएल सस्पेंड करने के बाद क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) ने बयान जारी किया है. उसने बीसीसीआई के फैसले का स्वागत किया है. CA ने कहा, 'आईपीएल सस्पेंड करने के फैसला का हम समर्थन करते हैं. हम समझते हैं कि बीसीसीआई ने ये फैसला खिलाड़ियों की सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए किया. CA बीसीसीआई के सीधे संपर्क में है.' 

CA ने कहा, 'खिलाड़ी और कोच के रहने और उनकी वापसी की योजनाओं को सुनिश्चित करने के लिए हम बीसीसीआई के संपर्क में हैं. ऑस्ट्रेलिया सरकार ने भारत से यात्रा पर 15 मई तक रोक लगाई है. हम सरकार के इस फैसले का समर्थन करते हैं.'

इससे पहले सोमवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने साफ कह दिया था कि खिलाड़ियों के लिए चार्टर फ्लाइट का इंतजाम कराने की उसकी कोई योजना नहीं है. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (CA) के चीफ निक हॉक्ले ने कहा है कि लीग में खेल रहे खिलाड़ियों के लिए चार्टर फ्लाइट (विशेष विमान) का इंतजाम कराने की कोई योजना नहीं है. हॉक्ले ने यह भी कहा कि टूर्नामेंट खत्म होने में चार सप्ताह बाकी हैं और किसी भी योजना पर अटकलें लगाना जल्दबाजी होगी. 

इस बीच, आईपीएल ने कहा कि विदेशी खिलाड़ियों की वापसी का तरीका ढूंढ लेगा. विदेशी खिलाड़ी कैसे वापस जाएंगे इस बारे में पूछे जाने पर बृजेश ने पीटीआई से कहा, ‘हमें उन्हें स्वदेश भेजने की जरूरत है और हम ऐसा करने का तरीका ढूंढ लेंगे.’
 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें