scorecardresearch
 

Sunil Gavaskar: 'उन्हें मैसेज नहीं करने वालों के नाम...', विराट कोहली को लेकर बोले सुनील गावस्कर

एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच के बाद कोहली ने एक चौैंकाने वाला खुलासा किया था. कोहली ने कहा था कि टेस्ट कप्तानी छोड़ने के बाद उन्हें धोनी के अलावा किसी ने मैसेज नहीं किया था. कोहली के इस बयान के बाद बहस छिड़ गई है. अब सुनील गावस्कर ने कहा है कि कोहली को उन खिलाड़ियों के नाम बताने चाहिए जिन्होंने मैसेज नहीं किया था.

X
विराट कोहली
विराट कोहली

भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने सोमवार को कहा कि विराट कोहली को अपने वर्तमान और पूर्व साथियों का नाम लेना चाहिए था, जिन्होंने टेस्ट कप्तानी छोड़ने के बाद उन्हें कोई मैसेज नहीं भेजा था. कोहली ने रविवार को कहा था कि टेस्ट कप्तानी छोड़ने के बाद उन्हें सिर्फ एमएस धोनी ने मैसेज किया था.

सुनील गावस्कर ने आजतक से बात करते हुए कहा कि उन्हें भारतीय ड्रेसिंग रूम के समीकरण के बारे में पता नहीं है  और कोहली ने सार्वजनिक मंच पर बोलते हुए जानकारी का खुलासा करने का फैसला क्यों किया. गावस्कर की टिप्पणी विराट कोहली के पाकिस्तान के खिलाफ मैच की समाप्ति के बाद दिए गए स्टेटमेंट के बाद आई है.

क्लिक करें- 'जब टेस्ट की कप्तानी छोड़ी, तब सिर्फ धोनी का मैसेज आया', दर्दभरी आवाज में बोले विराट कोहली

गावस्कर ने बताया, 'मुझे नहीं मालूम कि ड्रेसिंग रूम के अंदर इन सभी अन्य खिलाड़ियों के साथ क्या स्थिति थी. मुझे लगता है अगर विराट कोहली ने एक व्यक्ति का नाम बताया जिन्होंने मैसेज किया था, तो उन्हें शायद बाकी लोगों का भी नाम लेना चाहिए था जो संपर्क में नहीं थे. तब यह सभी के लिए उचित होता.'

कोहली ने पिछले साथ छोड़ी थी टी20 कप्तानी

कोहली ने पिछले साल यूएई में विश्व कप के बाद टी20 कप्तानी छोड़ दी थी. उस वर्ल्ड कप में भारत नॉकआउट स्टेज में जगह नहीं बना पाया था. उसके कुछ दिनों बाद कोहली से वनडे टीम की कप्तानी भी ले ली गई थी. बाद में कोहली ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज की समाप्ति के अगले दिन क्रिकेट के सबसे बड़े फॉर्मेट की कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था.

क्लिक करें- 'मुझे लगा मेरा करियर खत्म हो गया..', प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली का इमोशनल अवतार

कोहली ने एशिया कप 2022 सुपर में पाकिस्तान से भारत की हार के बाद कहा, 'मैं सिर्फ यह कहना चाहता हूं, अगर मुझे किसी को उनके खेल के बारे में बताना है, तो मैं व्यक्तिगत रूप से पहुंचता हूं. अगर मुझे किसी की मदद करनी है, तो मैं व्यक्तिगत रूप से करता हूं. यदि आप पूरी दुनिया के सामने कोई सुझाव दे रहे हैं तो यह मेरे लिए बहुत मायने नहीं रखता है. अगर आपको मुझे कुछ सुझाव देना है तो आप मुझसे एक-एक करके बात कर सकते हैं. मैं अपना जीवन बहुत ईमानदारी से व्यतीत करता हूं.

कोहली ने रोहित-द्रविड़ की तारीफ की

सुनील गावस्कर ने कहा कि वह मौजूदा कप्तानों और कोच की प्रशंसा करने वाले खिलाड़ियों की बातों को ज्यादा तवज्जो नहीं देते हैं. कोहली ने रविवार को कहा था कि रोहित शर्मा और मुख्य कोच राहुल द्रविड़ के तहत ड्रेसिंग रूम का माहौल शानदार रहा है और उन्होंने अपना मोजो वापस पा लिया है. गावस्कर ने कहा. नहीं, मैं यह नहीं कह सकता, यह उनकी मानसिकता है, मैं मनोवैज्ञानिक नहीं हूं. मैं सिर्फ वही कह रहा हूं जो मैं वर्तमान नेतृत्व के बारे में आने वाली टिप्पणियों को सुनकर महसूस करता हूं.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें