scorecardresearch
 

Ross Taylor and Rahul Dravid: दुनिया में हजारों बाघ, लेकिन द्रविड़...', टीम इंडिया के कोच को लेकर रॉस टेलर का बयान

राहुल द्रविड़ और रॉस टेलर ने 2008 से 2011 के बीच आईपीएल के चार सीजन में एक साथ क्रिकेट खेला. दोनों 2008 से 2010 तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का हिस्सा थे. फिर 2011 के सीजन में राजस्थान रॉयल्स (RR) ने रॉस टेलर और राहुल द्रविड़ को चुना था. रॉस टेलर की आत्मकथा गुरुवार (11 अगस्त) को जारी की गई थी.

X
राहुल द्रविड़ और रॉस टेलर राहुल द्रविड़ और रॉस टेलर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रॉस टेलर ने द्रविड़ की जमकर तारीफ की
  • आईपीएल में साथ खेल चुके हैं दोनों प्लेयर्स

न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान रॉस टेलर ने इस साल की शुरुआत में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था. हाल ही में टेलर ने 'ब्लैक एंड व्हाइट' ऑटो बायोग्राफी लिखी है. उस पुस्तक में उन्होंने भारत के वर्तमान मुख्य कोच राहुल द्रविड़ से जुड़ी एक घटना का वर्णन किया है, जब दोनों ने एक बाघ को देखने के लिए राजस्थान के रणथंभौर राष्ट्रीय उद्यान का दौरा किया था. टेलर बताते हैं कि आम जनता को बाघ को देखने की तुलना में द्रविड़ को देखने में अधिक रुचि थी.

टेलर कहते हैं, 'मैंने द्रविड़ से पूछा किआपने कितनी बार बाघ देखा है? द्रविड़ ने कहा कि उन्होंने कभी बाघ नहीं देखा. वह 21 बार जंगल सफारी पर गए लेकिन एक भी बार बाघ के उन्हें दर्शन नहीं हुए. मैंने सोचा, बाघ नहीं देखने पर भी 21 बार सफारी. सच में, अगर मुझे पता होता तो मैं नहीं जाता. मैं द्रविड़ से कहता कि मैं डिस्कवरी चैनल देखूंगा.

द्रविड़ बाघ को देख काफी रोमांचित थे: टेलर

टेलर ने आगे कहा, 'जैकब ओरम सुबह बाहर गए थे. उन्हें सफारी पर आने की में कोई दिलचस्पी नहीं थी. टीवी पर कोई बेसबॉल मैच था जिसे वह देखना चाहते थे. इसलिए वह हमारे साथ दोपहर की सफारी पर नहीं आए. हमारे ड्राइवर को एक स्टाफ ने रेडियो कॉल करके बताया कि उन्होंने एक प्रसिद्ध बाघ टी-17 को देखा है. यह सुनकर द्रविड़ रोमांचित हो उठे. आखिरकार वह 21 सफारी के बाद बाघ को देखने वाले थे.'

टेलर बताते हैं, 'हम खुली एसयूवी में थे, जो कि लैंड रोवर्स की तुलना में थोड़ी बड़ी होती है. बाघ एक चट्टान पर था हमसे 100 मीटर दूर पर मौजूद था. हम जंगल में बाघ को देखकर रोमांचित थे, लेकिन दूसरे वाहनों में लोग बाघ देखने के बजाय राहुल पर अपना कैमरा टिकाए बैठे थे. वे बाघ की जगह द्रविड़ को देखकर उत्साहित थे. वे सभी उतने ही उत्साहित थे जितना कि हम बाघ को देखकर थे. दुनिया भर में लगभग 4000 बाघ हैं, लेकिन राहुल द्रविड़ केवल एक हैं.'

टेलर ने आत्मकथा में किए काफी खुलासे

रॉस टेलर की आत्मकथा गुरुवार (11 अगस्त) को जारी की गई थी. अपने ऑटो बायोग्राफी में टेलर ने कुछ चौंकाने वाले खुलासे किए, जिसमें नस्लवाद का सामना करना भी शामिल था. टेलर ने इस ऑटो बायोग्राफी में 2011 सीजन के दौरान राजस्थान रॉयल्स के मालिक द्वारा उन्हें थप्पर मारे जाने का भी उल्लेख किया है.

राहुल द्रविड़ और रॉस टेलर ने 2008 से 2011 के बीच आईपीएल के चार सीजन में एक साथ क्रिकेट खेला. दोनों 2008 से 2010 तक रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का हिस्सा थे. फिर 2011 के सीजन में राजस्थान रॉयल्स ने रॉस टेलर और द्रविड़ को चुना था. गौरतलब है कि आईपीएल 2011 दिवंगत स्पिनर शेन वार्न का आखिरी सीजन भी रहा था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें