scorecardresearch
 

Ricky Ponting on Virat Kohli: विराट कोहली खुद को झांसा दे रहे ...' खराब फॉर्म पर रिकी पोंटिंग ने कही बड़ी बात

पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली का फॉर्म बेहद खराब चल रहा है. IPL 2022 सीजन में कोहली तीन बार गोल्डन डक पर आउट हुए. उन्होंने इस सीजन में 16 मैचों में 341 रन बनाए...

X
Virat Kohli and Ricky Ponting (Twitter) Virat Kohli and Ricky Ponting (Twitter)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • क्रिकेट से ब्रेक लेकर कोहली एंड फैमिली छुट्टियां मना रही
  • विराट कोहली के लिए IPL 2022 बेहद खराब रहा

Ricky Ponting on Virat Kohli: पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली का फॉर्म बेहद खराब चल रहा है. कोहली ने हाल ही में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2022 सीजन खेला था. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के लिए खेलने वाले कोहली का यह आईपीएल सीजन बेहद खराब रहा था. वह तीन बार गोल्डन डक पर आउट हुए. इसके बाद उनकी जमकर आलोचना हुई.

कई दिग्गजों ने माना कि कोहली थके हुए से लग रहे हैं. उन्हें क्रिकेट से ब्रेक लेकर छुट्टियों पर चले जाना चाहिए. फिर फ्रेश होकर लौटना चाहिए. इसी कड़ी में पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पोंटिंग का नाम भी शामिल है. उन्होंने तो यह तक कह दिया को कोहली खुद को झांसा दे रहे हैं.

अफ्रीका सीरीज से कोहली को मिला आराम

दिग्गजों की बात पर शायद बीसीसीआई की सेलेक्शन कमेटी ने भी गौर किया है. यही वजह रही कि बोर्ड ने विराट कोहली को आराम देने का फैसला किया. कोहली को साउथ अफ्रीका के खिलाफ 5 टी20 की सीरीज के लिए सेलेक्ट नहीं किया गया. हालांकि विराट कोहली एक जुलाई से इंग्लैंड में होने वाले एकमात्र टेस्ट मैच के लिए टीम में वापसी करेंगे.

'कोहली को सुधार के लिए रास्ता निकालना चाहिए'

पोंटिंग ने ICC रिव्यू में कहा, 'हर प्लेयर के करियर में एक बार इस तरह की चीजें (खराब फॉर्म) जरूर आती हैं. विराट पिछले 10 या 12 सालों से क्रिकेट खेल रहे और उन्होंने इतना बुरा दौर पहले कभी नहीं देखा, लेकिन आईपीएल में उन्हें देखकर हर तरफ यही बातें होने लगी कि कोहली थके हुए हैं. मुझे लगता है कि कोहली को इस पर सोचना चाहिए और सुधार के लिए कोई रास्ता निकालना चाहिए. चाहे वह टेक्निकल हो या मानसिक.' 

'कोहली के साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है...'

पोंटिंग ने कहा, 'एक बात है, जो मैं अपने अनुभव के आधार पर जानता हूं कि बतौर खिलाड़ी अक्सर आप खुद को यह सोचकर झांसा देते हो कि आप थके हुए नहीं हो. यहां आप मानते हो कि शारीरिक रूप से या मानसिक रूप से थके हुए नहीं हो. इस तरह आप हमेशा खुद को ट्रेनिंग और मैच के लिए तैयार रखने का रास्ता खोजते हो. इस तरह आप कुछ दिनों बाद खुद को बहुत थका हुआ पाते हो. मुझे लगता है कि कोहली के साथ भी ऐसा ही कुछ हो रहा है. हालांकि उनके साथ यह ज्यादा दिन नहीं रहेगा.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें